वंचित परिवारों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाना वर्तमान सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता : मंडलायुक्त

वंचित परिवारों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाना वर्तमान सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता : मंडलायुक्त

कहा, मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के अंतर्गत चिन्हित किए गए परिवारों को सरकारी योजनाओं का लाभ देना सुनिश्चित करें अधिकारी

हिसार, 01 दिसंबर  रवि पथ :

मंडलायुक्त चंद्रशेखर ने कहा है कि मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत वंचित परिवारों की आय में बढ़ोतरी कर उनके जीवन में सकारात्मक बदलाव लाना वर्तमान सरकार की सर्वाेच्च प्राथमिकता है। इसलिए संबंधित विभागों के अधिकारी मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के अंतर्गत चिन्हित किए गए परिवारों को सरकारी योजनाओं का लाभ देना सुनिश्चित करें।
वे बुधवार को स्थानीय लघु सचिवालय परिसर स्थित वीसी सभागार में मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में आयोजित की गई मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना की समीक्षा बैठक के उपरांत अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान आईजी राकेश कुमार आर्य व उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को योजना के तहत लगाए जा रहे मेलों के बारे में अपने सुझाव भी दिए।
मंडलायुक्त ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा गरीब एवं जरूरतमंद लोगों की आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है। योजना के तहत चिन्हित किए गए व्यक्तियों को लाभांवित करने के लिए खंड स्तर पर मेले आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारी सरकार द्वारा जनहित के कल्याणार्थ क्रियान्वित की जा रही योजनाओं एवं कार्यक्रमों से चिन्हित व्यक्तियों को जोडक़र उनकी वार्षिक आमदनी को एक लाख रुपये से बढ़ाकर 1 लाख 80 हजार रुपये करना सुनिश्चित करें।
उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी ने कहा कि इस योजना के तहत जिले में खंड, एमसी एवं नगर निगम क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले नागरिकों को लाभांवित करने के लिए मेले लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा गरीब व्यक्तियों की आर्थिक स्थिति में सुधार करने के लिए स्वरोजगार हेतू विभिन्न योजनाएं प्रभावशाली ढंग से संचालित की जा रही है।
इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त स्वप्रिल रविंद्रा पाटिल, हिसार के एसडीएम जगदीप सिंह, हांसी के एसडीएम जितेंद्र सिंह अहलावत, बरवाला के एसडीएम राजेंद्र कुमार, नारनौंद के एसडीएम विकास यादव, नगर निगम की संयुक्त आयुक्त बेलिना लोहान सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे।