गुरुग्राम में बिजली की मांग में 34 फ़ीसदी का इजाफा हुआ है

गुरुग्राम में बिजली की मांग में 34 फ़ीसदी का इजाफा हुआ है

चंडीगढ़, 2 जून  रवि पथ –

हरियाणा में बिजली मंत्री श्री रणजीत सिंह ने कहा कि राज्य के लिए बिजली के क्षेत्र में एक जुलाई का अहम दिन रहा है। इस दिन राज्य के गठन के बाद से अब तक सबसे अधिक बिजली की खपत और अधिकतम लोड दर्ज किया गया है।
बिजली मंत्री ने बताया कि हरियाणा के गठन के बाद से पहली बार राज्यमें 2576.88 एलयू (लाख यूनिट) रिकॉर्ड बिजली की खपत हुई है, जबकि 11732 मेगावाट का लोड दर्ज किया है। इसके साथ ही गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष गुरुग्राम में बिजली की मांग में 34 फ़ीसदी का इजाफा हुआ है। उन्होंने बताया कि पिछले साल गुरुग्राम में अधिकतम मांग 1147 मेगावाट थी, जोकि कल 1534 मेगावाट थी। उन्होंने कहा कि हरियाणा में बिजली की कोई कटौती नहीं है और बिना किसी रूकावट के निर्धारित समय के अनुसार लोगों को बिजली की आपूर्ति की जा रही है।

उन्होंने कहा कि पंजाब में पर्याप्त बिजली नहीं होने के कारण उद्योगों में बिजली के कट लगाए जा रहे हैं और बिजली की कमी की वजह से वहां सरकारी कार्यालयों का समय 8 से 2 बजे तक कर दिया गया है। जबकि हरियाणा में ऐसी कोई समस्या नहीं है। क्योंकि हम ने इसकी पहले ही तैयारियां की हुई थी।
श्री सिंह ने कहा कि राज्य के अधिकारियों के लिए एडवाइजरी जारी की गई है। इसमें धान सीजन के दौरान सतर्क रहने और जनता व किसानों को निर्बाध रूप से बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए है। इसके साथ ही अधिकारियों को बिजली की सुचारू उपलब्धता के लिए वितरण प्रणाली पर मौजूद रहने के निर्देश भी दिये गये है। इसके बावजूद यदि कोई शिकायत मिलती है तो सख्त करवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग के अधिकारी एवम कर्मचारी इसके लिए प्रशंसा के पात्र हैं कि वे बड़ी तन्मयता से अपने नियत कार्यो को पूरा करते है।
क्रमांक 2021