ओलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों की शीघ्र हो विशेष गिरदावरी: किरण

ओलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों की शीघ्र हो विशेष गिरदावरी: किरण

किसानों के मुआवजे का मुददा उठाया जायेगा आगामी विधानसभा सत्र में

भिवानी, 27 फरवरी  रवि पथ :

पूर्व मंत्री किरण चौधरी ने सरकार पर किसानों की अनदेखी का आरोप लगाते हुए सरकार से दो दिन पूर्व ओलावृष्टि से बर्बाद हुई किसानों की सरसों की फसल का 60 से 70 हजार रूपए मुआवजा दिये जाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में सरसों की कीमत 7 से 8 हजार रूपए प्रति क्विंटल है। ऐसे में मुआवजा भी इसके अनुरूप मिलना चाहिए।

किरण चौधरी आज जिले के ओलावृष्टि से प्रभावित आधा दर्जन गांवो सिंघानी, नकीपुर, पहाड़ी, ढाणी सोहला, भांडवा आदि में ओलों से बर्बाद हुई फसलों का जायजा ले रही थी। ग्रामीणों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार को अविलंब विशेष गिरदावरी करवानी चाहिए और किसानों को हुए नुकसान का मुआवजा देना चाहिए।
उन्होंने कहा कि वे 2 मार्च से शुरू होने वाले विधानसभा सत्र में इस मुददे को जोरशोर से उठायेंगी, ताकि किसानों को न्याय मिल सके। उन्होंने यह भी कहा कि किसानों की आय दो गुणा करने के दावे करने वाली भाजपा सरकार के कार्यकाल में आय आधी रह गई है। सरकार के नेता से लेकर मंत्री सभी केवल झूठ बोलने में व्यस्त हैं। भाजपा द्वारा अपने नेताओं को झूठ की पाठशाला में विशेष प्रशिक्षण दिया जाता है।
किरण चौधरी ने कहा कि जनता अब भाजपा की असलीयत जान चुकी है और आने वाले समय में इसे सत्ता से बाहर करके दम लेंगे।
उन्होंने सभी किसानों को मुआवजा देने की मांग की चाहे उनकी फसल का बीमा हुआ है या नहीं। उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश के कृषि मंत्री आए दिन बड़ी बड़ी बातें करते हैं लेकिन किसानों को देने के लिए उनके पास कुछ नहीं दिखाई देता।