धोखाधड़ी के मामले में बैंक का एक आरोपी कर्मचारी गिरफ्तार

धोखाधड़ी के मामले में बैंक का एक आरोपी कर्मचारी गिरफ्तार

आरोपी को पूछताछ के लिए लिया गया 04 दिन के पुलिस रिमांड पर

झज्जर  रवि पथ :

झज्जर पुलिस की एक टीम द्वारा धोखाधड़ी के मामले में गहनता से कार्रवाई करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। धोखाधड़ी के मामले में वांछित एक आरोपी को झज्जर क्षेत्र से गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की गई है। मामले की जानकारी देते हुए थाना प्रबंधक माच्छरौली उपनिरीक्षक रामजस ने बताया कि माच्छरौली में स्थित पंजाब नेशनल बैंक के शाखा प्रबंधक ने स्थानीय पुलिस को शिकायत देते हुऐ बताया था कि बैंक द्वारा कुछ एफडीआर खाताधारकों के नाम जारी की गई थी। एफडीआर में पंजाब नेशनल बैंक की शाखा माच्छरौली में कार्यरत एक बैंक स्टाफ कर्मचारी हिमांशु ने डुप्लीकेट एफडीआर जारी करके उक्त खातों से संबंधित जमा राशि को विभिन्न खातों में ट्रांसफर कर दिया। जिसके बाद बैंक की तरफ से उक्त कर्मचारी के खिलाफ विभागीय छानबीन की गई। जिसमें वह संलिप्त पाया गया। उपरोक्त कर्मचारी ने सिस्टम का दुरुपयोग करके उपरोक्त एफडीआर को विभिन्न खातों में हस्तांतरित कर बैंक व संबंधित खाताधारकों के साथ धोखाधड़ी की है। बैंक रिकॉर्ड से अब तक करीब 6 करोड 26 लाख 83 हजार रुपए की धोखाधड़ी होना पाया गया है। शिकायत पर कार्रवाई करते हुए थाना माच्छरौली में आरोपी के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया गया।
उन्होंने बताया कि पुलिस अधीक्षक  राजेश दुग्गल द्वारा धोखाधड़ी के उपरोक्त मामले को गंभीरता से लेते हुए मामले की गहनता से जांच पड़ताल करने के लिए डीएसपी झज्जर  नरेश कुमार के नेतृत्व में एसआईटी गठन करने के निर्देश किए गए थे। डीएसपी  नरेश कुमार के नेतृत्व में गठित एसआईटी में थाना प्रबंधक माच्छरौली उपनिरीक्षक रामजस, इकनोमिक सैल प्रभारी झज्जर उप निरीक्षक करण सिंह तथा थाना माच्छरौली में तैनात सहायक उप निरीक्षक अशोक कुमार को शामिल किया गया था। एसआईटी को उपरोक्त मामले की गहनता से छानबीन करने व तत्परता से कार्रवाई करके वांछित आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने के दिशा-निर्देश किए गए थे।

एसपी  राजेश दुग्गल के दिशा निर्देशानुसार व डीएसपी  नरेश कुमार के मार्गदर्शन में मामले पर गहनता से कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम द्वारा मामले के वांछित एक आरोपी को काबू किया गया। पकड़े गए आरोपी की पूछताछ में पहचान हिमान्शु निवासी झज्जर शहर के तौर पर की गई। पकड़े गए आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उसे अदालत झज्जर में पेश किया गया। माननीय अदालत से आरोपी को पूछताछ के लिए चार दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया। पुलिस रिमांड के दौरान पूछताछ में आरोपी से बैंक खातों का जिनमें उसने रुपया ट्रांसफर किया है तथा बैंक फ्रॉड में और कौन-कौन आरोपी शामिल हैं, के संबंध में खुलासा होने की संभावना है।