बिपिन रावत पंचतत्व में विलीन, बेटी ने पार्थिव शरीर को दी मुखाग्नि, 17 तोपों से दी गई सलामी

बिपिन रावत पंचतत्व में विलीन, बेटी ने पार्थिव शरीर को दी मुखाग्नि, 17 तोपों से दी गई सलामी

नई दिल्ली रवि पथ न्यूज़ :

देश के पहले सीडीएस बिपिन रावत समेत तमिलनाडु हेलिकॉप्टर क्रैश में जान गंवाने वाले सभी 13 लोगों को आज अंतिम विदाई दी गई है। जनरल बिपिन रावत का पार्थिव शरीर उनके आवास से बरार स्क्वायर ले जाया जा गया । करीब शाम 5 बजे उनका अंतिम संस्कार किया गया। उन्हें 17 तोपों की सलामी दी गई इस दौरान 800 जवान यहां मौजूद रहें।

यहां सीडीएस रावत की दोनों बेटियों ने पूरे रीति रिवाज से अंतिम संस्कार किया। बड़ी बेटी ने मुखाग्नि दी। सीडीएस को 17 तोपों की सलामी दी गई।

इससे पहले जनरल बिपिन रावत का पार्थिव शरीर शुक्रवार को बेस हॉस्पिटल से उनके आवास लाया गया। यहां सीजेआई एनवी रमन्ना, तीनों सेनाओं के प्रमुख, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत तमाम नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। सीडीएस बिपिन रावत और मधुलिका रावत की बेटियों कृतिका और तारिनी ने अपने माता-पिता को श्रद्धांजलि दी।