प्रदेश सरकार और शासन में समन्वय नहीं: अभय चौटाला

प्रदेश सरकार और शासन में समन्वय नहीं: अभय चौटाला

भाजपा गठबंधन सरकार एक-एक दिन खींचतान में निकाल रही है

दस साल कांग्रेस और सात साल भाजपा ने गुरुग्राम को सोमनाथ मंदिर की तरह लूटा है

गुरुग्राम, 21 जून  रवि पथ :

इंडियन नेशनल लोकदल के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने गुरुग्राम में आयोजित कार्यकर्ता बैठक में कहा कि प्रदेश सरकार और शासन में समन्वय नहीं है। गृह और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज द्वारा पुलिस महानिदेशक और अतिरिक्त स्वास्थ्य सचिव को लिखे पत्रों की भाषाशैली से ये तथ्य स्वयं प्रमाणित हो जाता है। अनिल विज पूर्णतया उपेक्षित और अप्रासंगिक हो चुके हंै। प्रदेश सरकार भ्रष्ट अधिकारियों को संरक्षण दे रही है। मानेसर जमीन घोटाले में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के साथ सहआरोपी सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी टीसी गुप्ता की सेवानिवृति के तुरंत बाद बतौर नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा की सहमति से मुख्य आयुक्त नियुक्त करना इसका प्रत्यक्ष उदाहरण है। गठबंधन सरकार एक-एक दिन खींचतान में निकाल रही है। सालों या महीनों के बजाय दिनों की झूठी उपलब्धियां गिनवाना इस बात का प्रबल संकेत है कि सरकार ज्वलंत विषयों पर विफल रही है। चुनाव के समय निकाली गई भर्तियों को रद्द करना और अनेक भर्तियों की प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात अंतिम परिणाम घोषित नहीं करना युवाओं के हितों पर कुठाराघात है। निजी उद्योगों में 75 फीसदी रोजगार का कानून न के बराबर है क्योंकि रोजगार मिला नहीं और प्रदेश विशेषकर गुरुग्राम से उद्योग पलायन हो रहे हैं।


सुप्रीम कोर्ट के स्पष्ट निर्णय के बावजूद एसवाईएल नहर निर्माण में प्रदेश और केंद्र सरकार उदासीनता से जल वितरण पर 55 वर्षों से प्रदेश और खासतौर पर दक्षिण हरियाणा की जीवन रेखा के साथ निरंतर अन्याय हो रहा है। कोविड काल मे सरकार की अकर्मण्यता दृष्टिगोचर हुई। कृषि के नाम पर बनाये गए तीन काले कानून किसान अन्नदाता ही नही सभी वर्गों के लिए डेथ वारंट के समान है। 7 महीने से विषम और विपरीत परिस्थितियों में कानून रद्द करवाने के लिए अन्नदाता दिल्ली के चारों तरफ बैठा है। सुप्रीम कोर्ट की अस्थायी रोक के उपरांत भी सरकार हठधर्मिता कर रही है। सरकार ने अस्थायी कोविड स्थलों का निर्माण किया जिनमे कोविड मरीजों का इलाज नहीं हुआ अपितु सरकारी धन की भारी बंदरबाट हुई। प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर पहुंच गई है। प्रदेश में महिला अपराध में अप्रत्याशित बढ़ोतरी होने से मातृशक्ति में असुरक्षा का भाव है। पेट्रोल-डीजल, खाद्य तेलों और अन्य आवश्यक वस्तुओं के मूल्य बढऩे से जन सामान्य हताश और निराश है।
विगत करीब 17 वर्षों में जिनमें 10 साल कांग्रेस और करीब 7 साल भारतीय जनता पार्टी के कुशासन ने इनेलो सेवाकाल में विकसित साइबर एवं मिलेनियम सिटी गुरुग्राम की वैश्विक पहचान को धूमिल कर दिया। इनेलो सेवाकाल में शिक्षा, चिकित्सा और उद्योगों के विकास पर विशेष बल दिया गया। कांग्रेस और भाजपा सरकारों ने गुडग़ांव को सोमनाथ के मंदिर की तर्ज पर लूट का अड्डा समझकर लूटा और लुटवाया है।
इस अवसर पर अन्य राजनीतिक दलों भाजपा-कांग्रेस और जजपा छोडक़र आए कई लोगों ने इनेलो की सदस्यता ग्रहण की। सदस्यता ग्रहण करने वालों में पूर्व जिला पार्षद राकेश यादव, पूर्व सरपंच ईश्वर सिंह श्योराण डाडावास, निवर्तमान सरपंच रामनिवास खेड़ा खुर्रमपुर, डॉ. चारु, पूर्व वाईस चेयरमैन तावडू बाबूराम, जमशेद खां तावडू, तुषार गाबा आदि को प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी ने पार्टी का पटका पहनाकर सदस्यता ग्रहण करवाई। इस अवसर पर पूर्व मंत्री श्याम सिंह राणा, पूर्व विधायक नरेश शर्मा, प्रदेश महासचिव एवं प्रभारी गुरुग्राम अशोक जैन, जिला प्रभारी मेवात आनंद श्योराण, जिला अध्यक्ष रोहतास खटाणा, प्रदेश प्रवक्ता सुखबीर तंवर, हल्का गुडग़ांव अध्यक्ष शमशेर कटारिया सहित इनेकों कार्यकर्ता उपस्थित थे।