न पर्ची-न खर्ची की बात करने वाली भाजपा गठबंधन सरकार है सबसे भ्रष्ट: अभय सिंह चौटाला

न पर्ची-न खर्ची की बात करने वाली भाजपा गठबंधन सरकार है सबसे भ्रष्ट: अभय सिंह चौटाला

सरकारी नौकरियां खरीदने के लिए हाई प्रोफाइल सेटिंग का मामला सामने आने से भाजपा गठबंधन सरकार पूरी तरह से बेनकाब हो गई है

चैटिंग में अमित ने भर्तियों के एडमिट कार्ड विनोद को भेजे हैं जिसमें नौकरी के लिए काम करवाने और पैसे के लेन-देन की बात है

पूरे मामले की जांच हाई कोर्ट के सिटिंग जज से करवाने की मांग की ताकि भाजपा गठबंधन सरकार के असली चेहरे को बेनकाब किया जा सके

चंडीगढ़, 1 सितम्बर  रवि पथ :

इनेलो के प्रधान महासचिव एवं ऐलनाबाद के विधायक अभय सिंह चौटाला ने कहा कि दिन-ब-दिन भाजपा गठबंधन सरकार के भर्ती घोटालों की पोल खुलती जा रही है। भाजपा गठबंधन सरकार के कार्यकाल में सरकारी नौकरी बेचने के दर्जनों मामले सामने आ चुके हैं। लेकिन भर्ती घोटाले के तार मुख्यमंत्री आवास और आफिस से जुड़े होने के कारण मामलों को दबा दिया गया। न पर्ची-न खर्ची की बात करने वाली भाजपा गठबंधन सरकार वास्तव में सबसे भ्रष्ट सरकार है।
इनेलो नेता ने कहा कि प्रदेश में सरकारी नौकरियां खरीदने के लिए हाई प्रोफाइल सेटिंग का मामला सामने आने से भाजपा गठबंधन सरकार पूरी तरह से बेनकाब हो गई है। भाजपा गठबंधन सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायक रणधीर गोलन के बेटे अमित और भाजपा नेता विनोद खर्ब के बीच कथित वॉट्सएप चैटिंग के स्क्रीनशॉट बुधवार को मीडिया में सामने आए हैं। चैटिंग में अमित ने भर्तियों के एडमिट कार्ड विनोद को भेजे हैं जिसमें नौकरी के लिए काम करवाने और पैसे के लेन-देन की बात है। चैटिंग से पता चलता है कि दोनों के बीच नौकरियों को लेकर सेटिंग का खेल करीब डेढ़ साल से चल रहा था। चैटिंग में साफ लिखा है कि किसके कितने सवाल सही हैं, कितने गलत, कितने में बात हुई इत्यादी, कई जगह पैसे वापस मांगे हुए हैं और नहीं देने पर एडीजीपी सीआईडी को शिकायत देने की बात भी कही गई है। पंचकूला थाने में जो एफआईआर दर्ज की गई है उसमें निर्दलीय विधायक के बेटे अमित ने भाजपा नेता को एक नौकरी के लिए रकम देने का उल्लेख किया है।
अभय सिंह चौटाला ने पूरे मामले की जांच हाई कोर्ट के सिटिंग जज से करवाने की मांग की ताकि भाजपा गठबंधन सरकार के असली चेहरे को बेनकाब किया जा सके।