5100 पेंशन देने का वादा करने वाले ही बुजुर्गों की पेंशन बन्द करने की रच रहे हैं साजिश : बलराज कुण्डू

5100 पेंशन देने का वादा करने वाले ही बुजुर्गों की पेंशन बन्द करने की रच रहे हैं साजिश : बलराज कुण्डू

आपका विधायक आपके गांव आपके द्वार कार्यक्रम के तहत फरमाना गांव के दौरे का दूसरा दिन

 विधायक कुण्डू ने की एक दर्जन से अधिक सामाजिक कार्यक्रमों में शिरकत

महम, 7 फरवरी  रवि पथ  :

सत्ता में आने से पहले जिन पार्टियों के नेता बुजुर्गों को 51 सौ रुपये पेंशन देने के वादे करते नहीं थकते थे वही लोग सत्ता पर काबिज होकर आज बुढ़ापा पेंशन के लिए बुजुर्गों को तरसा रहे हैं। जन सेवक मंच के संयोजक एवं महम से निर्दलीय विधायक बलराज कुण्डू ने गांव फरमाना में बुजुर्गों के बैठकों में चर्चा के दौरान यह बात कही। आपका विधायक आपके गांव आपके द्वार कार्यक्रम के तहत आज लगातार दूसरे दिन बलराज कुंडू गांव फरमाना में विभिन्न सामाजिक कार्यक्रमों में पहुंचे थे जहां पर लोगों के साथ चर्चा करते हुए उन्होंने वृद्धावस्था पेंशन काटे जाने को लेकर सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि बुजुर्गों की पेंशन को उनके परिवारजनों की आय एवं उनकी फैमिली आईडी से जोड़कर जानबूझकर उनकी पेंशन काटी जा रही है और हालात देखकर लगता है कि धीरे-धीरे पेंशन व्यवस्था को ही बंद करने की साजिश रची जा रही है। उन्होंने बुजुर्गों की पेंशन रोकने पर सरकार की कड़ी आलोचना की। बुजुर्गों ने बताया कि दिसंबर और जनवरी महीने की पेंशन के लिये अब तक इंतजार करना पड़ रहा है। कुण्डू बोले वे इस मामले को सरकार के स्तर पर तो उठाएंगे ही आने वाले विधानसभा सत्र में भी इस मामले को पुरजोर तरीके से उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि सिर्फ बुजुर्गों ही नहीं बल्कि विधवा महिलाओं और विकलांगों तक की पेंशन में अड़चनें डाली जा रही हैं जो सरासर गलत बात है। प्रदेश में लगातार बिगड़ती जा रही कानून व्यवस्था को लेकर भी बलराज कुंडू ने सरकार पर सवाल उठाए और कहा कि बढ़ते हुए अपराध की जड़ में बेरोजगारी मुख्य कारण है। सरकार का बिल नौजवानों को रोजगार देने में पूरी तरह विफल रही है। लगातार जनविरोधी फैसलों के चलते प्रदेश के हालात खराब होते जा रहे हैं और वह तमाम मुद्दों को लेकर विधानसभा के आगामी सत्र में भी आम आदमी की आवाज को पूरी मजबूती के साथ उठाएंगे। इससे पूर्व गांव में पहुंचने पर जनहित से जुड़े मुद्दों को लेकर बेबाकी से आम आदमी की लड़ाई लड़ने के लिए गांव के बुजुर्ग दादा ने गांव की तरफ से पगड़ी पहनाकर विधायक बलराज कुंडू का स्वागत किया और उनको आशीर्वाद दिया।