डीएपी के बढ़े रेट का किसान नहीं ,सरकार उठाएगी बोझ : धनखड़

डीएपी के बढ़े रेट का किसान नहीं ,सरकार उठाएगी बोझ : धनखड़

सरकार अब प्रति बैग 1650 की बजाए 2501 रुपये देगी प्रति बैग सब्सिडी

देशभर के 14 करोड़ से अधिक किसानों को बड़ी राहतडीएपी पर सब्सिडी बढ़ाने पर मोदी सरकार का जताया आभार

चंडीगढ़, 28 अप्रैल रवि पथ ;

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष औम प्रकाश धनखड़ ने खरीफ सीजन के लिए डी ए पी खाद पर प्रति बैग सब्सिडी 1650 से बढ़ाकर 2501 रुपये करने पर पी एम मोदी सरकार का आभार प्रकट किया है। धनखड़ ने कहा कि इस किसान हितैषी निर्णय से खरीफ सीजन में किसानों को डीएपी पुराने रेट पर ही मिलता रहेगा। बढ़े हुए रेट का पूरा बोझ सरकार वहन करेगी। उन्होंने कहा कि रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण दुनियाभर में खाद के रेट तेजी से बढ़ रहे हैं। पीएम मोदी की किसान हितैषी सोच से देशभर में 14 करोड़ से अधिक किसानों को बड़ी राहत मिलेगी। धनखड़ ने कहा कि मोदी सरकार ने फॉस्फेटिक और पोटासिक उर्वरकों के लिए सब्सिडी को 21,000 करोड़ से बढ़ाकर 61,000 करोड़ रुपये करने का फैसला लिया है। साथ ही पीएम स्वनिधि स्कीम को दिसंबर 2024 तक बढ़ाने का फैसला लिया है। इस योजना में किसानों को कोलैटरल फ्री लोन मिलता है। पीएम स्वनिधि योजना का लाखों वेंडर्स ने फायदा उठा रहे हैं।
धनखड़ ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार ने खरीफ सीजन के लिए 60,939.23 करोड़ रुपये की सब्सिडी मंजूर की है। मौजूदा वित्त वर्ष में केंद्र का खाद सब्सिडी पर व्यय 2.10 से 2.30 लाख करोड़ रुपये के बीच उच्च रहने का अनुमान है। यह एक साल में खाद सब्सिडी पर होने वाला अब तक का सबसे अधिक खर्च होगा।
धनखड़ ने कहा कि केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसानों को सरकार द्वारा किसान कल्याण की चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी व लाभ देने के लिए आजादी के अमृत महोत्सव वर्ष में “किसान भागीदारी, प्राथमिकता हमारी” नामक अभियान की शुरुआत की है।