किसानों पर राजद्रोह के केस दर्ज करने पर भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने जताई कड़ी आपत्ति

किसानों पर राजद्रोह के केस दर्ज करने पर भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने जताई कड़ी आपत्ति

आंदोलन के दौरान किसानों पर राजद्रोह के दर्ज मुकदमे वापिस ले सरकार

आंदोलनकारियों पर राजद्रोह की धारा लगाना सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों की अवहेलना- हुड्डा

किसानों से सकारात्मक बातचीत करे सरकार- हुड्डा

19 जुलाई, चंडीगढ़ रवि पथ :

पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने किसानों के खिलाफ राजद्रोह की धाराओं के तहत दर्ज किए जा रहे मामलों पर कड़ा एतराज जताया किया है। उनका कहना है कि आंदोलनकारियों के खिलाफ ऐसी गंभीर धाराओं का इस्तेमाल करके बीजेपी-जेजेपी सरकार सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों की भी अवहेलना कर रही है। खुद सुप्रीम कोर्ट ने सरकार का विरोध करने वालों के खिलाफ ऐसी राजद्रोह की धाराएं लगाने पर आपत्ति जताई है। इसके लिए बाकायदा सरकार को नोटिस भी जारी किया गया है। नेता प्रतिपक्ष ने गठबंधन सरकार को नसीहत दी की राजद्रोह जैसी गंभीर धाराओ के बल पर किसान आंदोलन को दबाने की बजाय उसे केंद्र और किसानों के बीच कड़ी का काम करना चाहिए।

क्योंकि आज हरियाणा ही नहीं बाकि राज्यों के किसान भी हरियाणा की सीमाओं पर धरनारत हैं। इसलिए बीजेपी-जेजेपी सरकार को केंद्र के सामने इन किसानों की पैरवी करनी चाहिए। किसानों के साथ संवाद स्थापित कर सरकार को सकारात्मक समाधान निकालना चाहिए । हुड्डा ने कहा कि अगर कोई शख्स कानून हाथ में लेता है तो उसपर कार्रवाई होनी चाहिए। लेकिन किसानों पर दर्ज राजद्रोह के मुकदमे तुरंत वापिस लेने चाहिए ।