मेडिकल प्रेक्टिशनर ग्रामीणों को कोरोना टेस्टिंग व इलाज के लिए करें प्रेरित : रणजीत सिंह

मेडिकल प्रेक्टिशनर ग्रामीणों को कोरोना टेस्टिंग व इलाज के लिए करें प्रेरित : रणजीत सिंह

ग्रामीण क्षेत्र में 24 हजार मेडिकल किट की गई वितरित, कोरोना इलाज के लिए दवाईयों की नहीं कोई कमी

300 गांवों के मेडिकल प्रेक्टिशनर को डॉक्टरों द्वारा कोविड इलाज बारे दिया जा चुका प्रशिक्षण

ग्रामीण क्षेत्र में संक्रमण फैलाव की रोक के लिए प्रशासन गंभीरता से कर रहा काम

सीडीएलयू के ऑडिटोरियम हाल में ग्रामीण मेडिकल प्रेक्टिशनर के साथ बैठक आयोजित, डॉक्टरों ने कोविड उपचार के लिए किया प्रशिक्षित

सिरसा, 18 मई  रवि पथ :

प्रदेश के बिजली, अक्षय ऊर्जा एवं जेल मंत्री रणजीत सिंह ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए सरकार व प्रशासन दिन-रात एक किए हुए है। गांव में संक्रमण का फैलाव चिंता का विषय है। ग्रामीणों को कोरोना बीमारी की गंभीरता को समझते हुए कोविड टेस्टिंग व इसके उपचार कार्यों में प्रशासन का सहयोग करना होगा। इस कार्य में मेडिकल प्रेक्टिशनर एक अहम रोल अदा कर सकते हैं। लक्षण वाले मरीजों के उपचार व बीमारी से बचाव के उपायों के प्रति ग्रामीणों को जागरूक करने में अपनी सक्रिय भूमिका निभाएंं।


बिजली मंत्री मंगलवार को सीडीएलयू में आयोजित ग्रामीण मेडिकल प्रेक्टिशनर की बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान डॉक्टरों द्वारा मेडिकल प्रेक्टिशनर को कोविड लक्षणों वालों की पहचान व उनके उपचार बारे जानकारी दी और प्रेक्टिशनरों द्वारा कोरोना को लेकर पूछे गए सवालों के संतोषजनक जवाब देकर उनकी शंकाओं को दूर किया गया। इस अवसर पर उपायुक्त प्रदीप कुमार, पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह, एसडीएम जयवीर यादव, जिला परिषद सीईओ राजेश कुमार, डिप्टी सीएमओ बुधराम, डा. जी.के अग्रवाल, डा. एम.एम तलवार व डा. सुरेश व समाज सेवी एडवोकेट संजीव जैन आदि उपस्थित थे। इस दौरान मेडिकल प्रेक्टिशनर को मेडिकल किट भी दी गई।