नेट स्लो होने के कारण लेट हुई आई स्कैनिंग, परीक्षा रूम में करवानी पड़ी बायोमेट्रिक अटेंडेंस

नेट स्लो होने के कारण लेट हुई आई स्कैनिंग, परीक्षा रूम में करवानी पड़ी बायोमेट्रिक अटेंडेंस

3007 में से 2835 परीक्षार्थी पहुंचे, 10 केंद्रों पर 94.28 फीसदी ने दिया पीजीटी का एग्जाम

डीसी और एसपी ने किया परीक्षा केंद्रों का दौरा, जिले में परीक्षा के पहले दिन कोई यूएमसी नहीं बना

कैथल  रवि पथ :

शहर में बनाए गए 10 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित पीजीटी एचटेट परीक्षा शांतिपूर्ण रही। पीजीटी की परीक्षा में जिले में 94.28 फीसदी परीक्षार्थी उपस्थित रहे। बता दें कि जिले में कुल 3007 परीक्षार्थियों ने अप्लाई किया हुआ था, जिनमें से 2835 ही परीक्षा देने पहुंचे। पेपर शुरू होने से दो घंटे 10 मिनट पहले एंट्री शुरू हो गई थी। लेकिन सभी परीक्षार्थी जिले के ही थे, इसलिए अंतिम 45 मिनट में अधिक परीक्षार्थी परीक्षा केंद्रों पर पहुंचे।

वहीं आई स्कैनिंग सिस्टम स्लो होने के चलते परीक्षा केंद्रों में परीक्षार्थियों की भीड़ हो गई। जिसके चलते आई स्कैनिंग के बाद होने वाली बॉयोमीट्रिक समय रहते नहीं हो पाई। इसलिए अधिकतर परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थियों की बॉयोमीट्रिक रूम के अंदर ही करवानी पड़ी। यहां बता दें कि परीक्षा केंद्र में प्रवेश से पूर्व परीक्षार्थी की बायी आंख स्कैन की जाती है तथा उसकी बॉयोमीट्रिक उपस्थिति भी दर्ज होती है। परीक्षा में कोई यूएमसी नहीं बनी।

सीबीएसई के लगाए 8 ऑब्जर्वर

परीक्षा में 8 परीक्षार्थी ऐसे थे जिनका सेंटर उसी संस्थान में आया हुआ था, जिनमें वे काम करते हैं। इसके चलते इन 8 परीक्षार्थियों की निगरानी के लिए शिक्षा विभाग ने इनके एग्जाम रूम में अलग से सीबीएसई के ऑब्जर्वर लगाए।

डीसी और एसपी ने इन परीक्षा केंद्रों का किया दौरा

डीसी डॉ. नरहरि सिंह बांगड़ व पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने डैफोडिल्स पब्लिक स्कूल, अपेक्स पब्लिक स्कूल, पॉयनियर कॉन्वेंट स्कूल, स्प्रिंग बेल्स पब्लिक स्कूल तथा चौधरी मनीराम गोदारा राजकीय महिला महाविद्यालय में बनाए गए परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने परीक्षा केंद्र में बनाए गए कंट्रोल रूम, अनुपस्थित परीक्षार्थियों की जानकारी ली।

लास्ट टाइम में पहुंचे ज्यादातर परीक्षार्थी

ज्यादातर परीक्षार्थी एंट्री टाइम के लास्ट समय में पहुंचे। आई स्कैनिंग करने वाली टीमों के पास मैन पावर की कमी व इंटरनेट सेवा स्लो होने के कारण आई स्कैनिंग करने में टाइम लगा। परीक्षार्थियों की बायोमेट्रिक अटेंडेंस परीक्षा रूम में ही करवानी पड़ी। जिला शिक्षा विभाग ने बोर्ड को स्लो आई स्कैनिंग सिस्टम को लेकर पत्र भेजा है।

तय समय पर परीक्षा केंद्र पहुंचे परीक्षार्थी

शनिवार को आयोजित हुई एचटेट लेवल-3 की परीक्षा पूरी तरह से शांतिपूर्ण रही। विद्यार्थियों से अपील है कि वे एंट्री के तय समय पर परीक्षा सेंटर पर पहुंचे ताकि आई स्कैनिंग व बॉयोमीट्रिक का कार्य समय रहते पूरा हो सके -दयानंद सिहाग, डीईओ।