बाल कल्याण परिषद द्वारा संचालित विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रम तथा कक्षाओं के लिए पंजीकरण आरंभ।

बाल कल्याण परिषद द्वारा संचालित विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रम तथा कक्षाओं के लिए पंजीकरण आरंभ।

हिसार, 02 अप्रैल रवि पथ :

जिला बाल कल्याण परिषद द्वारा संचालित विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रम, डे-केयर सेंटर तथा कक्षाओं के लिए पंजीकरण आरंभ हो चुका है। इन गतिविधियों के लिए पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर प्रवेश दिया जा रहा है।
जिला बाल कल्याण अधिकारी विनोद कुमार ने यह जानकारी देते हुए बताया कि बाल भवन में बच्चों/लड़कियों/महिलाओं के उत्थान एवं उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए विभिन्न प्रकार की गतिविधियां चलाई जा रही हैं। उन्होंने बताया कि बाल भवन हिसार व मिनी बाल भवन हांसी में डे-केयर सैंटर संचालित है। बाल भवन हिसार में प्री नर्सरी, लोअर नर्सरी, अपर नर्सरी एवं कक्षा 1 से 3 तक में प्रवेश लेने वाली छात्राओं को मासिक शुल्क में विशेष छूट प्रदान की जा रही है। इसी प्रकार से सायं कालीन कोचिंग सैंटर नि:शुल्क चलाया जा रहा है। सैंटर में प्रशिक्षित अध्यापिकाओं द्वारा कक्षा 1 से 5 तक के बच्चों को शिक्षा प्रदान की जा रही है। इस सैंटर में उन्हीं बच्चों को प्रवेश दिया जाता है, जिन बच्चों के अभिभावक घर में बच्चों के होमवर्क नहीं करवा सकते है। लड़कियों/महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सिलाई-कढ़ाई एवं ब्यूटी पार्लर प्रशिक्षण केंद्र में 3 व 6 महीने के लिए नि:शुल्क कोर्स चलाए जा रहे हैं।


उन्होंने बताया कि जिला सूचना एवं प्रोद्योगिकी विभाग द्वारा प्रशिक्षित अध्यापक/अध्यापिका द्वारा बाल भवन हिसार एवं मिनी बाल भवन हांसी में कम्प्यूटर प्रशिक्षण केंद्र के माध्यम से 3 से 6 माह, व एक वर्ष के प्रशिक्षण प्रदान किए जाते हैं। इसके अलावा 6 महीने व 1 वर्ष के लिए स्टैनोग्राफी का कोर्स चलाया जा रहा है। प्रशिक्षण पूर्ण होने उपरान्त सर्टीफिकेट एवं प्रमाण-पत्र प्रदान किए जाते हैं। बच्चों के लिए बाल भवन में एक बेबी सप्लेश पूल भी संचालित है। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए बाल भवन के कार्यालय में संपर्क किया जा सकता है।