ओमिक्रॉन वैरिएंट तथा कोविड-19 को लेकर मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

ओमिक्रॉन वैरिएंट तथा कोविड-19 को लेकर मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना सहित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की

हिसार, 28 दिसंबर  रवि पथ :

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ओमिक्रॉन वैरिएंट तथा कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत विदेशों से आने वाले नागरिकों पर निगरानी रखने के लिए अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।
जिले के अधिकारियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन वेरिएंट के बढ़ते खतरे तथा कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर को मद्देनजर रखते हुए निर्धारित किए गए मापदंडों की पूरी तरह से पालना करनी सुनिश्चित की जाए। बिना वैक्सीनेशन वाले नागरिकों को सार्वजनिक स्थानों पर प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। इसलिए ऐसे व्यक्ति जिन्होंने वैक्सीनेशन की दूसरी डोज नहीं ली है, उन्हें वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि छोटे बच्चों को संक्रमण के प्रभाव से बचाव के लिए शीघ्र वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।
उन्होंने मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत आयोजित किए गए मेलों की समीक्षा करते हुए चयनित व्यक्तियों को योजनाओं का लाभ शीघ्र मुहैया करवाने के भी निर्देश दिए हैं। परिवार पहचान पत्र की वेरिफिकेशन एवं मैपिंग के तहत किए जाने वाले कार्यों को अधिकारी शीघ्र पूरा करना सुनिश्चित करें ताकि विभिन्न विभागों के माध्यम से जनहित के कल्याणार्थ क्रियान्वित की जा रही योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों को शीघ्र उपलब्ध करवाना सुनिश्चित किया जा सके। उन्होंने मेरी फसल-मेरा ब्यौरा योजना की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसानों को प्रेरित करने के लिए प्रत्येक गांव में कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा शिविर आयोजित किए जाएं। साथ ही सभी विभागों, निगमों एवं बोर्डों के कार्यालयों में फाइलों का निपटान ई-ऑफिस प्रणाली के माध्यम से किया जाना सुनिश्चित किया जाए। इस अवसर पर एसडीएम जगदीप सिंह, मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी अनुष्का मिश्रा व कुस्तुभ इरुकुला सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।