चण्डीगढ का मुददा पंजाब सरकार ने लोगों का ध्यान भटकाने के लिए छेडा है’’- गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री

चण्डीगढ का मुददा पंजाब सरकार ने लोगों का ध्यान भटकाने के लिए छेडा है’’- गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री

वे ओर भी मुददे छोड सकते हैं लोगों को आपस में लडवा सकते हैं, ऐसा वो कर सकते है’’-अनिल विज

उन्हें पता है जो उन्होंने घोषणाएं की थी, अगर उन पर डटे रहे, तो पंजाब का हाल श्रीलंका जैसा हो जाएगा’’-विज

चण्डीगढ़, 7 अप्रैल  रवि पथ –

हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री  अनिल विज ने कहा कि ‘‘चण्डीगढ का मुददा पंजाब सरकार ने इसलिए छेडा है क्योंकि उन्होंने जो घोषणाएं की हैं उनको वे पूरा नहीं कर सकते हैं, इसलिए लोगों का ध्यान भटकाने के लिए ये मुददा उन्होंने छेडा है’’। उन्होंने कहा कि ‘‘वे ओर भी मुददे छोड सकते हैं लोगों को आपस में लडवा सकते हैं, ऐसा वो कर सकते हैं क्योंकि उनको पता है, कि जो घोषणाएं की थी, अगर उन पर डटे रहे, तो पंजाब का हाल श्रीलंका जैसा हो जाएगा।
विज आज यहां पंचकूला में विशेष ओलंपिक भारत नेशनल हैल्थ फेस्ट कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर शामिल होने के उपरांत मीडियाकर्मियों द्वारा पूछे गए प्रश्नों का उत्तर दे रहे थे।

‘‘जब तक हमें एसवाईएल का पानी नहीं देते, हमारे हिन्दी भाषी क्षेत्र नहीं देते, हम चण्डीगढ में डटे रहेंगें’’-विज

उन्होंने कहा कि ‘‘हमारा स्टेण्ड बिल्कुल क्लियर है जब तक हमें एसवाईएल का पानी नहीं देते, हमारे हिन्दी भाषी क्षेत्र नहीं देते, हम चण्डीगढ में डटे रहेंगें’’।

कोविड के दौरान डाक्टरों बहुत कुछ करके दिखाया-विज

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि ‘‘आज विश्व स्वास्थ्य दिवस है और यूएनओ ने वर्ष 1950 से इसको मनाने का निर्णय लिया हुआ हैं। उन्होंने कहा कि इस दिवस का मुख्य उदेश्य लोगों में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता लाना है’’।
उन्होंने कहा कि पिछले दो सालों में कोविड के प्रकोप के दौरान डाक्टरों ने बहुत कुछ करके दिखाया हैं, इस दौरान उन्होंनें अपनी जिंदगियां भी खो दी है और हजारों जिंदगियों को बचाया भी है।