गुरुग्राम में मास्क ना लगाने वालों पर बरती जाएगी सख्ती

  • गुरुग्राम में मास्क ना लगाने वालों पर बरती जाएगी सख्ती
  • जिला में संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए टेस्टिंग पर दिया जा रहा है जोर, आने वाले दिनों में प्रतिदिन किए जाएंगे पांच हजार कोविड टेस्ट
  • गुरुग्राम, 25 अप्रैल रवि पथ :

  • गुरुग्राम के उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने कहा कि
    जिला में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर पिछले डेढ़ महीने से प्रतिदिन किए जा रहे रैपिड एवं आरटीपीसीआर टेस्टों को संख्या में बढ़ोतरी के साथ साथ जिला के नागरिकों को इसके बढ़ते प्रसार के संबंध में पुनः जागरूक करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा विभिन्न स्तर पर जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं। यादव आज केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला की अध्यक्षता में एनसीआर क्षेत्र में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए किए जा रहे उपायों को लेकर बुलाई गयी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग बैठक में बोल रहे थे।इस समीक्षा बैठक में उपायुक्त यादव ने गुरुग्राम जिला प्रशासन द्वारा कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिए किए प्रबंधों से अवगत करवाया।
    वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित उपरोक्त बैठक में चंडीगढ़ से हरियाणा के मुख्य सचिव संजीव कौशल, हरियाणा के स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा व स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी उपस्थित रहे जबकि गुरुग्राम में मण्डल आयुक्त राजीव रंजन, उपायुक्त निशांत कुमार यादव व सिविल सर्जन डॉ वीरेंद्र यादव हाज़िर रहे। इस बैठक में उत्तर प्रदेश व दिल्ली के मुख्य सचिव, एनसीआर के जिला फरीदाबाद, रोहतक, झज्जर, सोनीपत पानीपत, बागपत, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर के उपायुक्त सहित उपरोक्त जिलों के आला पुलिस अधिकारी भी जुड़े थे।
    समीक्षा बैठक की शुरुआत में केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने एक संछिप्त पॉवरपॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से कोविड 19 को लेकर दिल्ली व एनसीआर के क्षेत्र में शामिल हरियाणा व उत्तर प्रदेश के जिलों में मार्च व अप्रैल माह में किए गए विभिन्न कार्यक्रमों की समीक्षा की। श्री भूषण ने अपनी प्रेजेंटेशन में वीकली केस, वीकली डेथ, वीकली पॉजिटिविटी, वीकली टेस्ट व प्रतिदिन आने वाले केसों का जिक्र करते हुए कहा कि हमें समय रहते कोरोना संक्रमण के प्रसार को ध्यान में रखते हुए थ्री टी यानी टेस्ट, ट्रैक व ट्रीट के नियम पर आगे बढ़ना होगा। इस दौरान उन्होंने जिला प्रशासन गुरुग्राम द्वारा किए गए प्रबंधों की प्रसंशा करते हुए कहा कि गुरुग्राम जिला द्वारा इस दिशा में काफी बेहतर कार्य किया जा रहा है।
    -अगले 3 -4 दिन में प्रतिदिन किए जाएंगे पांच हजार से अधिक टेस्ट
    केंद्रीय गृह सचिव से टेस्टिंग बढ़ाने के निर्देशों पर उपायुक्त ने उन्हें आश्वस्त करते हुए कहा कि गुरुग्राम जिला निश्चित ही इस क्षेत्र में अपना बेहतर प्रदर्शन करेगा। उन्होंने कहा कि जिला गुरुग्राम ने पिछले कुछ दिनों से कोरोना संक्रमण के केसों में बढ़ोतरी के मद्देनजर अभी से पुख्ता तैयारी शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि जिला में कोविड 19 टेस्टिंग में निरंतर बढ़ोतरी की जा रही है। वहीं अगले 3 -4 दिन में प्रतिदिन करीब पांच हजार लोगों की कोविड टेस्टिंग का निर्णय लिया गया है।
    -मास्क ना लगाने वालों पर बरती जाएगी सख्ती
    उपायुक्त ने कहा कि गुरुग्राम में कोरोना के बढ़ते केसों को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार ने गुरुग्राम जिला में फिर से मास्क का नियम लागू किया है। उन्होंने केंद्रीय गृह सचिव को बताया कि जिला प्रशासन द्वारा विभिन्न स्तर पर मास्क के इस्तेमाल के लिए जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं। इस दौरान उन्होंने नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्ती बरतने के भी संकेत दिए।
    डीसी की जिलावासियों के नाम अपील
    उपायुक्त यादव ने बैठक के उपरांत जिला में कोरोना केसों की संख्या में निरंतर बढ़ोतरी को लेकर लोगों से सावधानी, सतर्कता और जागरूकता बरतने की अपील करते हुए कहा कि हर नागरिक जारी हिदायतों की पालना करते हुए अपने परिवार, बच्चों, बुजुर्गों और अन्य नागरिकों को बचाने में अपेक्षित सहयोग करें। कोरोना के बढ़ते प्रसार को रोकने के लिए फेस मास्क, सैनिटाइजर, शारीरिक दूरी, साफ-सफाई हिदायतों का पालन करें। ऐसा करके हम सभी इस महामारी के बढ़ते प्रसार को रोक सकते हैं। सभी व्यक्ति घर से बाहर निकलते ही फेस मास्क लगाकर निकलें। जिन लोगों की दूसरी डोज या बूस्टर डोज़ ड्यू हो चुकी है, वह भी अपनी वैक्सीन का कोर्स पूरा करें। आमजन के सहयोग से ही कोरोना को हराने की जंग में जीत हासिल की जा सकती है।