किसानों एवं मजदूरों के हकों के लिये मकड़ौली टोल किसान महापंचायत में दहाड़े महम विधायक बलराज कुंडू

किसानों एवं मजदूरों के हकों के लिये मकड़ौली टोल किसान महापंचायत में दहाड़े महम विधायक बलराज कुंडू

मकड़ौली टोल पर किसान भंडारे में 1 लाख और दिल्ली बोर्डरों पर चल रहे धरनों के भंडारों के लिए अलग से 5 लाख का दिया चंदा

तीन काले कानून लाने वाली केंद्र के साथ किसानों की उपेक्षा करने पर प्रदेश सरकार की नीयत पर उठाए सवाल

किसान नेता राकेश टिकैत और गुरनाम चढूनी के साथ मिलकर आंदोलन की मजबूती का दोहराया संकल्प

रोहतक, 16 अक्टूबर  रवि पथ  :

महम से निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू ने आज मकड़ौली टोल पर आयोजित किसान एवं मजदूर तालमेल महापंचायत में शिरकत की। आयोजकों की ओर से किसानों के साथ मजबूती से डटे रहने के लिए पगड़ी पहनाकर कुंडू का स्वागत किया गया। कुंडू ने महापंचायत के आयोजन एवं भंडारे में अपनी तरफ से 1 लाख चंदा तथा दिल्ली के बोर्डरों पर चल रहे भंडारों के लिये अलग से 5 लाख के दान की घोषणा करते हुए कहा कि सभी भाईयों को किसान आंदोलन रूपी इस महायज्ञ में सामर्थ्य अनुसार आहुति देनी चाहिए ताकि बोर्डरों पर दिन-रात संघर्ष कर रहे हमारे किसान भाईयों को किसी चीज की कमी ना महसूस हो। किसान नेता राकेश टिकैत एवं गुरनाम चढूनी के साथ आंदोलन की मजबूती का संकल्प दोहराते हुए कुंडू ने महापंचायत में उमड़ी भारी भीड़ को मंच से सम्बोधित करते हुए अपना वक्तव्य दिया। उन्होंने कहा कि साढ़े दस महीने से मेरे किसान भाई दिल्ली के बोर्डरों पर बैठे आंदोलन चला रहे हैं और सैंकड़ो शहादतें हो चुकी लेकिन सरकार आज तक राजहठ पर अड़ी बैठी है, सँयुक्त किसान मोर्चे को इस बात को लेकर भी चिंतन करना चाहिए। कुंडू ने 36 बिरादरी के भाईचारे एवं किसान-मजदूर एकता का सन्देश देते हुए कहा कि हमारी एकता ही इस आंदोलन की सबसे बड़ी ताकत है और हमें एकजुटता से आंदोलन को मुकाम तक लेकर जाना है। उन्होंने प्रदेश में मंडियों के बन्द होने एवं बाजरे का एमएसपी नहीं मिलने के मुद्दों को भी मजबूती से रखते हुए केंद्र एवं हरियाणा सरकार की नियत और गलत नितियों पर सवाल उठाए।