हरसैक के सहयोग से जिले में स्थापित होगी जियोग्राफिक इंफॉर्मेशन सिस्टम (जीआईएस) लैब

हरसैक के सहयोग से जिले में स्थापित होगी जियोग्राफिक इंफॉर्मेशन सिस्टम (जीआईएस) लैब

हिसार, 09 जून वि पथ :

उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी ने कहा कि सुशासन संकल्प के तहत राज्य सरकार आमजन के हित में ऐसी योजनाएं लागू कर रही है, जिनके फलस्वरूप नागरिकों को घर बैठे ही योजनाओं का लाभ मिलेगा। इसी कड़ी में परिवार पहचान पत्र योजना एक अहम योजना है, इसलिए संबंधित विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी योजना के तहत परिवार पहचान पत्र की वेरिफिकेशन का कार्य जल्द से जल्द निपटाएं।
वे बुधवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रधान सचिव वी उमाशंकर द्वारा आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के उपरांत सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन को लेकर संबंधित विभागों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को दिशा निर्देश दे रहीं थी।

उन्होंने बताया कि जिला में जल्द ही हरसैक के सहयोग से जियोग्राफिक इंफॉर्मेशन सिस्टम (जीआईएस) लैब स्थापित की जाएगी। इस लैब में जिला से संबंधित विभिन्न जानकारी संकलित की जाएगी, ताकि परियोजनाओं की रूपरेखा तैयार करने में मदद मिले। इस लैब में सिटीजन रिसोर्स इनफार्मेशन डिपार्टमेंट द्वारा स्वचालित रूप से प्रमाण पत्र जारी होंगे। इस पर पंजीकरण के बाद कोई भी व्यक्ति अपना जाति संबंधी प्रमाण पत्र ऑनलाइन हासिल कर सकेगा। आटो जनरेटेड सर्टिफिकेट सभी जगहों पर मान्य होगा।
उपायुक्त ने विवाह पंजीकरण को लेकर भी अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए। उन्होंने नगर निगम, नगर परिषद व नगर पालिकाओं के अधिकारियों से मैरिज रजिस्ट्रेशन का कार्य पूरी गंभीरता के साथ करने को कहा। तहसीलदार यह सुनिश्चित करेंगे कि वे सर्टिफिकेट के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट के समय में अपने कार्यालय में उपस्थित रहें। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त स्वप्निल रविंद्रा पाटिल, जिला राजस्व अधिकारी बिजेंद्र भारद्वाज, सीएमजीजीए सौम्या, डीआईओ एमपी कुलश्रेष्ठï सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।