भारतीय बीच कुश्ती के राष्ट्रीय सह-संयोजक बिजेंद्र लोहान ने दी जानकारी

भारतीय बीच कुश्ती के राष्ट्रीय सह-संयोजक बिजेंद्र लोहान ने दी जानकारी
हरियाणा में होगी पहली जूनियर नेशनल बीच रेसलिंग चैंपियनशिप

28 राज्यों सहित आठ केन्द्र शासित प्रदेशों की कुश्ती टीमें लेगी हिस्सा

 रवि पथ न्यूज़ :

हरियाणा दिवस पर आरंभ होगी दो दिवसीय चैम्पियनशिप
विजेता खिलाड़ी लेंगे वर्ल्ड चैम्पियनशिप में लेंगे हिस्सा
हिसार। भारतीय कुश्ती संघ के तत्वावधान में होने वाली पहली जूनियर नेशनल बीच रेसलिंग चैंपियनशिप की मेजबानी का मौका हरियाणा को मिला है। दो दिवसीय इस चैंपियनशिप का आगाज हरियाणा दिवस 1 नवम्बर को हिसार जिले के ऐतिहासिक गांव मोठ स्थित सृष्टि इंटरनेशनल स्पोर्ट्स स्कूल नारनौंद के ग्राउंड में होगा। इसके लिए व्यापक स्तर पर तैयारियां जारी है। यह जानकारी देते हुए बीच कुश्ती के राष्ट्रीय सह-संयोजक बिजेंद्र लोहान व इवेंट कोऑर्डिनेटर नरेश सेलपाड़ ने बताया कि पहली जूनियर नेशनल बीच रेसलिंग चैंपियनशिप में आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, गोवा, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, तेलंगाना, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड व पश्चिम बंगाल की टीमें हिस्सा लेंगी। उन्होंने बताया कि जल्द ही इस चैम्पियनशिप का पूरा खाका जमीन पर उतारा जाएगा। श्री लोहान के अनुसार अखाड़े की कुश्ती कहे जाने वाली इस बीच कुश्ती में समय सीमा तीन मिनट होगी, जबकि अखाड़े का रेडियस सात मीटर होगा। उनके अनुसार पहले तीन पोंईट जीतने वाले खिलाडिय़ों को विजेता घोषित किया जाएगा।

इन आयु व भार वर्ग में होंगे मुकाबले:-
ईंवेट कार्डिनेटर नरेश सेलपाड़ के अनुसार लडक़ों व लड़कियों की प्रथम जूनियर नेशनल बीच रेसलिंग चैंपियनशिप 17 से 20 आयु वर्ग के खिलाड़ी हिस्सा ले सकेंगे। इसमें लड़कियों के लिए 50 किलोग्राम, 60 किलोग्राम व 60 से अधिक भार वर्ग में मुकाबले होंगे, जबकि लडक़ों के लिए 60 किलोग्राम, 70 किलोग्राम, 80 किलोग्राम व 80 किलोग्राम से अधिक भार वर्ग रखा गया है।
सभी केंद्र शासित राज्यों की टीमें होगी शामिल:-
राष्ट्रीय सह-संयोजक बिजेंद्र लोहान के अनुसार प्रथम जूनियर बीच रेसलिंग चैम्पियनशिप में अंडमान व निकोबार, चंडीगढ़, दादरा और नगर हवेली, दिल्ली, लक्षद्वीप, पुडुचेरी, जम्मू कश्मीर, श्रीनगर व लदख सहित सभी केंद्र शासित प्रदेशों की टीमें हिस्सा लेगी।

वल्र्ड चैम्पियनशिप में मिलेगा अवसर:-
बीच कुश्ती के नेशनल चेयरमैन डॉ. रोहताश सिंह नांदल व बीच रेसलिंग हरियाणा के सह-संयोजक व केश कला एवं कौशल विकास बोर्ड के निदेशक नरेश सेलपाड़ के अनुसार जूनियर नेशनल बीच रेसलिंग चैंपियनशिप के विजेताओं को वर्ल्ड चैम्पियनशिप में भाग लेने का अवसर मिलेगा। श्री सेलपाड़ के अनुसार बीच रेसलिंग में किसी भी भार वर्ग में एक प्रदेश से मात्र एक ही खिलाड़ी भाग लेता है, जबकि सामान्य कुश्ती में स्टेट स्तर पर स्वर्ण, रजत व कांस्य पदक विजेताओं को भाग लेेने के अवसर मिलते हैं।