पंचायती जमीन पर अवैध कब्जा हटवाने गई टीम पर पथराव, जेसीबी मशीन तोड़ी, पांच पुलिसकर्मी घायल

पंचायती जमीन पर अवैध कब्जा हटवाने गई टीम पर पथराव, जेसीबी मशीन तोड़ी, पांच पुलिसकर्मी घायल

नारनौल रवि पथ :


गांव सेका में देर शाम पंचायती जमीन से कब्जा छुड़वाने गए पुलिस बल व डयूटी मजिस्ट्रेट पर कब्जधारियों द्वारा पथराव किया गया। जिसमें पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए व एक जेसीबी मशीन को तोड़ दिया गया। घायल पुलिस कर्मचारियों को सिविल अस्पताल नारनौल में भर्ती करवाया गया है। बाद में अतिरिक्त पुलिस बल मंगवा कर कब्जा हटवाया गया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव सेका में तीन परिवारों द्वारा पंचायती जमीन पर कब्जा किया हुआ था। जिसे लगभग दो साल पहले पंचायत द्वारा हटवाया गया था। लेकिन पंचायत भंग होते ही उक्त परिवारों ने फिर से इस जमीन पर कब्जा कर लिया। जिस पर ग्राम सचिव की शिकायत पर बीडीपीओ ने इस अवैध कब्जे को हटवाने के आदेश जारी कर प्रशासन से पुलिस मदद की मांग भी की थी। जिस पर आज पुलिस बल के साथ डयूटी मजिस्ट्रेट बीडीपीओ प्रमोद कुमार, एसईपीओ बलजीत सिंह, पटवारी रमेश कुमार व ग्राम सचिव ब्रह्मप्रकाश गांव में पहुंचे और कब्जाधारियों से जमीन के कागजात दिखाने को कहा। लेकिन वो कोई कागजात प्रस्तुत नही कर पाए। इस पर जैसे ही कर्मचारियों ने जेसीबी मशीन से कब्जा हटवाना आरंभ किया तो कब्जाधारियों के परिजनों व महिलाओं ने टीम पर पथराव शुरू कर दिया। इसके साथ ही जेसीबी मशीन को भी तोड़ दिया गया। इस दौरान पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए। बाद में नारनौल से अतिरिक्त पुलिस बल मंगवा कर कब्जा कार्रवाई को पूरा किया गया।
इस सम्बंध में सदर थाना पुलिस ने डयूटी मजिस्ट्रेट प्रमोद कुमार की शिकायत पर 13 नामजद व 15-20 नामालूम लोगों पर सरकारी काम मे बाधा पहुंचाने, कर्मचारियों के साथ मारपीट करने, छीना झपटी करने आदि के आरोप में मुकदमा दर्ज कर 8 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है।