एचएयू का विद्यार्थी अंकित गोयत जर्मनी से करेगा मास्टर डिग्री

August 7, 2021

एचएयू का विद्यार्थी अंकित गोयत जर्मनी से करेगा मास्टर डिग्री
जर्मनी की प्रथम रैंक की यूनिवर्सिटी है यूनिवर्सिटी ऑफ होईनहायम
कुलपति प्रोफेसर बी.आर. काम्बोज ने दी बधाई
हिसार : 7 अगस्त रवि पथ न्यूज़
चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार के कृषि महाविद्यालय के विद्यार्थी अंकित गोयत का चयन दो वर्षीय स्नातकोत्तर प्रोग्राम में जर्मनी के स्टूटगार्ट की यूनिवर्सिटी ऑफ होईनहायम में डिग्री के लिए हुआ है। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर बी.आर. काम्बोज ने विद्यार्थी के चयन पर बधाई देते हुए उसके उज्जवल भविष्य की कामना की है। उन्होंने कहा कि इससे विश्वविद्यालय के अन्य विद्यार्थियों को भी प्रेरणा मिलेगी और वे भी विश्व के शीर्ष वरियता प्राप्त विश्वविद्यालयों में शिक्षा ग्रहण करने के लिए प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय विद्यार्थियों के अंतरराष्ट्रीय स्तर के एक्सपोजर के लिए विश्व स्तर के शिक्षण संस्थानों में संपर्क बनाए हुए है। अब विश्वविद्यालय के विद्यार्थी लगातार विश्व की शीर्ष वरियता प्राप्त विश्वविद्यालयों में शिक्षा ग्रहण करने के लिए जा रहे हैं। विश्वविद्यालय के स्नातकोत्तर अधिष्ठाता डॉ. अतुल ढींगड़ा ने विद्यार्थी की कड़ी मेहनत की सराहना करते हुए अपनी पढ़ाई पूरी करने की शुभकामनाएं दी। महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ. रामनिवास ढांडा ने बताया कि अंकित गोयत का चयन उनके द्वारा बीएससी और आइईएलटीएस में प्राप्त स्कोर एवं बैंड के आधार पर हुआ है। स्टूटगार्ट की यूनिवर्सिटी ऑफ होईनहायम जर्मनी की प्रथम रैंक विश्वविद्यालय है जो कि एक पब्लिक यूनिवर्सिटी है। विद्यार्थी की डिग्री अक्टूबर 2021 से शुरू होगी और अक्टूबर 2023 में पूरी होगी। सह-छात्र कल्याण निदेशक डॉ. राजेंद्र बेनीवाल ने बताया कि भिवानी जिले के कुंगड़ गांव निवासी अंकित पुत्र जसवंत सिंह गोयत का चयन स्नातकोत्तर डिग्री के लिए मुख्य विषय बायोइकॉनोमी में हुआ है जो अपने आप में बहुत बड़ी उपलब्धि है।
अपने पिता को मानते हैं आदर्श, विश्वविद्यालय प्रशासन के सहयोग के लिए किया धन्यवाद
अंकिग गोयत अपने पिता जसवंत सिंह को आदर्श और प्रेरणा स्त्रोत मानते हैं जो एक राष्ट्रीय स्तर के कबड्डी खिलाड़ी रह चुके हैं। उनका कहना है कि उनके पिता हमेशा उन्हें आगे बढऩे के लिए प्रेरित करते रहते हैं। विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा किए गए मार्गदर्शन व सहयोग के लिए धन्यवाद दिया है।