फौज में भर्ती बहाल करने के लिए इनेलो ने केंद्रीय गृहमंत्री को लिखा पत्र, ज्ञापन सौंपने के लिए मांगा समय

May 11, 2022

फौज में भर्ती बहाल करने के लिए इनेलो ने केंद्रीय गृहमंत्री को लिखा पत्र, ज्ञापन सौंपने के लिए मांगा समय

ओवर ऐज होने के कारण फौज में भर्ती न होने से बेरोजगारी युवाओं के लिए अभिशाप बन गई है: चौधरी ओम प्रकाश चौटाला

कांग्रेस और भाजपा दोनों पार्टियों की एक ही मानसिकता है कि देश और प्रदेश का युवा बेरोजगार रहे और नौकरी मांगने के बजाय इनका झंडा उठा कर उनके नारे लगाते रहे

प्रदेश का युवा 47 डिग्री तापमान में आज सडक़ों पर उतर कर प्रदर्शन करने पर मजबूर है

चंडीगढ़, 11 मई रवि पथ :

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री एवं इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला ने कहा कि प्रदेश के युवाओं में आज बेरोजगारी के कारण हताशा और निराशा बढ़ती जा रही है। प्रदेश का युवा फौज में भर्ती होकर देश की सरहदों की रक्षा करना चाहता हैं लेकिन भाजपा की केंद्र सरकार द्वारा पिछले तीन साल से फौज में भर्ती बंद किए जाने से प्रदेश का युवा 47 डिग्री तापमान में आज सडक़ों पर उतर कर प्रदर्शन करने पर मजबूर है। आज ओवर ऐज होने के कारण फौज में भर्ती न होने से बेरोजगारी युवाओं के लिए अभिषाप बन गई है। इसी को लेकर इनेलो ने देश के गृहमंत्री को पत्र लिख कर ज्ञापन देने के लिए समय मांगा है।
कांग्रेस और भाजपा जैसी पार्टियां युवाओं को सिर्फ वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल करती हैं जो कभी नहीं चाहती कि युवाओं को अच्छी शिक्षा और रोजगार मिले। दोनों पार्टियों की एक ही मानसिकता है कि देश और प्रदेश का युवा बेरोजगार रहे और नौकरी मांगने के बजाय इनका झंडा उठा कर उनके नारे लगाते रहे।
भाजपा सरकार को बेरोजगारी का मुद्दा नजरअंदाज करना बहुत महंगा पड़ेगा। पिछले तीन साल से फौज में कोई भी भर्ती न होने के कारण आज ढाई लाख से अधिक पद खाली पड़े हैं। पहले फौज में हर साल 80 हजार से ऊपर भर्तियां होती थी लेकिन भाजपा की केंद्र सरकार ने मार्च 2020 से सेना की भर्ती बंद की हुई है जिसको तुरंत बहाल करने की सख्त जरूरत है। पिछले दिनों फौज में भर्ती न निकलने के कारण ओवर ऐज होने के चलते जिला भिवानी के गांव तालू के युवक पवन ने आत्महत्या कर ली थी।
इनेलो की सरकार रहते हमने बेरोजगार युवाओं को रोजगार दिया था जिस कारण 10 साल की कैद तक काटनी पड़ी थी। आज बेरोजगारी चरम पर है और प्रदेश के युवाओं के रोजगार के बारे में सोचने वाला कोई नहीं है। 2024 में इनेलो की सरकार बनते ही पहली कलम से बेरोजगार योग्य युवाओं को रोजगार दिया जाएगा ताकि कोई भी युवा बेरोजगारी से त्रस्त हो कर आत्महत्या जैसा कदम न उठा सके।