मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने नलवा विधान सभा क्षेत्र के लिए करोड़ों रुपये के विकास कार्यों की घोषणा की, राजकीय महाविद्यालय मंगाली का किया शिलान्यास

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने नलवा विधान सभा क्षेत्र के लिए करोड़ों रुपये के विकास कार्यों की घोषणा की, राजकीय महाविद्यालय मंगाली का किया शिलान्यास

मंगाली के शहीदों की स्मृति में बनाए गए स्मारक पर अमर शहीदों को दी श्रद्घांजलि

श्री बालाजी गौशाला के 17वें वार्षिक महोत्सव एवं गौ-भागवत कथा समारोह में की शिरकत, गौशाला में विभिन्न कार्यों के लिए दी 65 लाख रुपये की राशि

हिसार, 27 मार्च रवि पथ :

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रविवार को नलवा विधान सभा क्षेत्र के लिए करोड़ो रुपयें की अनेक विकास परियोजनाओं की घोषणा की। गांव मंगाली स्थित श्री बालाजी गौशाला के 17वें वार्षिक महोत्सव एवं गौ-भागवत कथा समारोह में डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा द्वारा रखी गई एक दर्जन से अधिक मांगों को मंजूर किया गया। मुख्यमंत्री ने मंगाली की पांच पंचायतों में विकास कार्यों के लिए 4 करोड़ रुपये की राशि देने की भी घोषणा की। इसके अतिरिक्त गौशाला प्रबंधन को भी माननीय मुख्यमंत्री की ओर से 21 लाख तथा कैबिनेट मंत्री डॉ कमल गुप्ता, जेपी दलाल, डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा व राज्य सभा सांसद डॉ डीपी वत्स की ओर से 11-11 लाख रुपये की राशि विभिन्न कार्यों के लिए दी गई। गौ-भक्त राजेंद्र गावडिया की ओर से भी गौशाला को 21 लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की गई।
नलवा विधान सभा क्षेत्र के लिए ये मांगे हुई मंजूर
समारोह में डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा द्वारा हल्के के द्वारा रखी गई मांगों को मंजूर करते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बासड़ा माइनर तथा स्याहडवा माइनर की रिमॉडलिंग की घोषणा की। इसके अलावा 15 करोड़ रुपये की लागत से गारनपुरा माइनर की रिमॉडलिंग, 1.5 करोड़ रुपये की लागत से ओपी जिंदल माइनर के विभिन्न कार्य किए जाएंगे। ओपी जिंदल माइनर पर पहले भी 40 करोड़ रुपये की धनराशि खर्च की गई थी, नए कार्यों के बाद इस माइनर से अंतिम टेल तक किसानों को पानी उपलब्ध होगा। इसी प्रकार से मंगाली वाटर वर्कस को मीरकां माइनर की बजाय अब सिवानी फीडर से जोड़े जाने की मांग भी मंजूर की। मुख्यमंत्री ने मंगाली में सिजनल परचेज सेंटर आरंभ करने, 22.50 करोड़ रुपये की लागत से कैमरी से स्याहड़वा रोड़ का पुर्ननिर्माण करने, 3.5 करोड़ रुपये की लागत से मंगाली से रावतखेड़ा मार्ग की चौडाई बढ़ाने और इसके मजबूतीकरण के कार्यों की घोषणा की। उन्होंने 3.5 करोड़ रुपये की लागत से गंगवा से कैमरी रोड़ तक के सडक़ मार्ग का पुर्ननिर्माण, 2.5 करोड़ रुपये की लागत से स्याहडवा से गारनपुर मार्ग तथा 2 करोड़ रुपये की लागत से स्याहडवा-गारनपुरा रोड़ से दुबेटा मार्ग को दुरूस्त करने की मांग भी मंजूर की।
राजकीय महाविद्यालय मंगाली का शिलान्यास किया
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने राजकीय महाविद्यालय मंगाली का भी शिलान्यास किया और क्षेत्रवासियों को एक बड़ी सौगात दी। उन्होंने कहा कि इस महाविद्यालय के बनने से न केवल मंगाली की पांच पंचायतों बल्कि पूरे नलवा विधान सभा क्षेत्र के छात्र-छात्राओं को शिक्षा ग्रहण करने के लिए दूर-दराज नहीं करना पड़ेगा। मुख्यमंत्री ने महाविद्यालय के त्वरित निर्माण के लिए अधिकारियों को जरूरी हिदायत भी दी। इस अवसर पर सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग कर्मी व लोक कलाकार कुलदीप जांगड़ा द्वारा हरियाणा की विकास गाथा पर आधारित गीत को भी लांच किया।
मंगाली में शहीद स्मारक पर अमर शहीदों को भी दी श्रद्घांजलि
मंगाली में आयोजित कार्यक्रमों के अलावा मुख्यमंत्री मनोहर लाल 1857 की क्रांति तथा इसके उपरांत आजादी की लड़ाई के लिए शहादत देने वाले मंगाली के शहीदों की स्मृति में बनाए गए स्मारक पर पहुंचे। अमर शहीदों को नमन करते हुए उन्होंने स्मारक के सौंदर्यकरण के लिए 42 लाख रुपये दिए जाने की घोषणा की।
गौ संरक्षण एवं संवर्धन हेतु वचनबद्घ है राज्य सरकार
मुख्यमंत्री ने श्री बालाजी गौशाला के 17वें वार्षिक महोत्सव एवं गौ-भागवत कथा समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2021 में गौशालाओं को प्रोत्साहन देने के लिए 13 करोड़ रुपये की धनराशि दी गई। इस वर्ष भी सरकार द्वारा गौशालाओं के विभिन्न कार्यों के लिए 13 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। गौशालाओं में बिजली की समुचित व्यवस्था करने के लिए सोलर प्लांट स्थापित किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा गौशालाओं में बनाए जाने वाले शैड एवं चारा के प्रबंधन हेतु बजट को बढ़ाकर 50 करोड़ रुपये कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के गरीब परिवारों की आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने के लिए मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत मेले आयोजित किए जा रहे हैं। मेलों में चिन्हित किए गए व्यक्तियों द्वारा 80 हजार आवेदन जमा करवाएं गए हैं, इनमें से 40 हजार फार्म गौपालन एवं दुधारू पशुओं की डेयरी स्थापित करने से संबंधित हैं। राज्य सरकार द्वारा साहीवाल नस्ल को बढ़ावा देने के लिए स्थापित की जाने वाली डेयरियों पर भी अनुदान का लाभ दिया जा रहा है। राज्य सरकार ऑर्गेनिक खेती को प्रोत्साहन दे रही है। उन्होंने किसानों का आह्वïान करते हुए कहा कि वे रासायनिक उर्वरकों के स्थान पर गोबर की खाद का प्रयोग करें।
इस अवसर पर कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जेपी दलाल, शहरी स्थानीय निकाय मंत्री डॉ कमल गुप्ता, डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा, राज्य सभा सांसद डीपी वत्स, मेयर गौतम सरदाना, हांसी के विधायक विनोद भयाना, भाजपा के जिला अध्यक्ष कैप्टन भूपेंद्र (वीरचक्र), उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी, एसपी लोंकेंद्र सिंह, अतिरिक्त उपायुक्त स्वप्रिल रविंद्र पाटिल, स्वामी राजेंद्रानंद महाराज, भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट, पूर्व चेयरमैन सतबीर वर्मा, श्री निवास शर्मा, अशोक मितल, गौशाला प्रधान नरेश सिंगल, हरिओम शर्मा, सरपंच राकेश गांधी, प्रमोद कौशिक, अमित कौशिक, मधुर गुप्ता, सरोज सिहाग सहित बड़ी संख्या में क्षेत्रवासी उपस्थित थे।