बेरोजगारों के साथ 7 मई को बीजेपी के राज्यकार्यालय रोहतक का घेराव करेंगे – जयहिन्द

बेरोजगारों के साथ 7 मई को बीजेपी के राज्यकार्यालय रोहतक का घेराव करेंगे – जयहिन्द

हिसार रवि पथ :

आज नवीन जयहिन्द फरसा व सोटा(मूसल) लेकर प्रेसवार्ता करने हिसार पहुंचे। जयहिन्द ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि बेरोजगारी की वजह से नौजवान क्राइम व नशे की ओर अग्रसर हो रहे है। बेरोजगारी ही एक ऐसा मुख्य कारण है जिसकी वजह से नौजवान युवा आत्महत्या कर रहे है। ये आत्महत्या नही सरकार व सिस्टम द्वारा की गई हत्याऐं है। जयहिन्द ने कहा युवाओ को आत्महत्या नही करनी है बल्कि सड़क पर उतर कर सरकार को मारना है।

जयहिन्द ने कहा कि सरकार को हर भर्ती का कैलेंडर जारी करना चाहिए जिसमें कब पेपर होगा , कब रिजल्ट आएगा, कब लिस्ट लगेगी आदि सभी उस कैलेंडर में होना चाहिए। पिछले 3 सालों से फौज की कोई भर्ती नही करा रही सरकार। हरियाणा के 5 लाख युवा भर्ती की तैयारी कर रहे है। पिछले 2 सालों से भर्तियाँ CET के नाम से रदद की जा रही है लेकिन अभी तक CET की कोई परीक्षा नही ली गयी। युवाओ को CET के नाम पर बहकाया जा रहा है व जिनकी परीक्षा ली गयी है उनका रिजल्ट नही निकल गया। हरियाणा पुलिस में 25 हजार कर्मियों की जगह खाली है और जिसकी वजह से प्रशासन अपराध कम करने में नाकामयाब है क्योंकि पुलिस के पास खुद पूरा स्टाफ नही है। हरियाणा पुलिस के 50 हजार उम्मीदवार रिजल्ट के इन्जार में बैठे है। इसलिए सभी उम्मीदवार अपनी बात मनवाने के लिए शनिवार 7 मई को रोहतक के मानसरोवर पार्क में 11 बजे एकत्रित होंगे व बीजेपी के मुख्यकार्यालय का घेराव करेंगे।

हर वर्ग इस सरकार से नाराज है खेड़ी चोकटा में पिछले 1 महीने से किसान धरने पर बैठे है क्योंकि उनको कोई मुआवजा नही दिया जा रहा, खेदड़ में गौशाला के लोग बैठे है क्योंकि उनको गौशाला के लिए पर्याप्त चारा नही दिया जा रहा, जो दिव्यांग है उनका हक खाया जा रहा है, स्वास्थ्य कर्मी जो है वो धरने पर बैठे है। भर्ती निकली नही जा रही जबकि विभागों में 5 लाख पद खाली है।

अयोध्या में राम मन्दिर बनेगा और रोहतक में परशुराम मंदिर बनेगा – नवीन जयहिन्द

22 मई को उसी जमीन पर रोहतक परशुराम जयंती मनाई जाएगी – जयहिन्द

जयहिन्द ने कहा यह धर्मयुद्ध की शुरुआत है जिस प्रकार अयोध्या में भगवान राम का मन्दिर बना है उसी प्रकार रोहतक में भी भगवान परशुराम का भव्य मंदिर बनेगा और रविवार 22 मई को उसी जमीन पर परशुराम जयंती मनाई जाएगी। उस जमीन पर स्कूल, कॉलेज व हॉस्पिटल बनाये जाएंगे जिसमे सभी बिरादरी के बच्चे पढ़ेंगे व सबका इलाज होगा। साथ ही जयहिन्द ने सरकार को चेतावनी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री जी रोहतक में आए हुए है वे ब्राह्मणों की जमीन पूरे मां सम्मान के साथ ब्राह्मणों के हवाले करके जाए, अगर मुख्यमंत्री जी ऐसा नही करते है तो ब्राह्मण समाज अपने आप उस जमीन पर कब्जा लेगा। यह सरकार ब्राह्मणों को कमजोर न समझे अब सरकार के साथ महाभारत होगी।

जयहिन्द ने कहा वह जमीन पहरावर (ब्राह्मणों का गांव) की जमीन थी। जो कि गौड़ संस्था को स्कूल, कॉलेज, हॉस्पिटल बनाने के लिए दी गयी थी। लेकिन सरकार द्वारा उस जमीन पर कब्जा कर लिया गया। 13 साल हो चुके है जो कि ब्राह्मण समाज के लोग धक्के कहा रहे है लेकिन जमीन नही दे रही सरकार। इस मामले को लेकर कुछ फीस भी ब्राह्मण समाज सरकार को जमा करवा चुका है। जयहिन्द ने सरकार को 4 तारीख तक का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि ब्राह्मणों को कमजोर समझने की गलती न करे सरकार, 1 इंच भी जमीन सरकार को नही देंगे। अगर सरकार ने जमीन की तरफ आंख उठा कर भी देखा तो उसी जमीन में उल्टा लटकाकर गाड़ देंगे सरकार को।

जयहिन्द ने कहा कि इसमें सभी 36 बिरादरियों को न्योता होगा। व परशुराम जयंती 22 मई को हर ब्राह्मण से अपील है के 1 ईंट व 1 फरसा अपने साथ लेकर आएं।

शिक्षा मंत्री रोहतक से पचास हजार टीचर भर्ती की घोषणा करके जाएं – नवीन जयहिन्द

जयहिन्द ने बताया आज शिक्षा मंत्री बच्चो को टैबलेट (टैब) बांटने रोहतक आए हुए है। लेकिन बच्चो को टैबलेट चलाना सिखाएगा क्योंकि हरियाणा में पचास हजार टीचर के पद तो खाली पड़े है। हरियाणा की ये दुर्दशा इसलिए है क्योंकि हमारा शिक्षा मंत्री 10वीं फैल है। जयहिन्द ने कहा कि शिक्षा मंत्री आज अपनी डिग्री या 10वीं फैल के डॉक्यूमेंट जरूर बच्चो को दिखा कर जाएं। साथ ही जयहिन्द ने कहा अगर शिक्षा मंत्री जी बच्चो को यह बताते है कि वे 10वीं फैल है ओर अच्छा काम करना चाहते है व बच्चो को टैबलेट के साथ पचास हजार टीचर भी देना चाहते है । तो हमे कोई फर्क नही पड़ेगा कि मंत्री जी पढ़े-लिखे है या नही, लेकिन अगर आप सिर्फ टैबलेट ही बांट कर जाते है और टीचर नियुक्त नही करते है तो उन बच्चो को पढ़ायेगा लिखयेगा कौन, सिर्फ टैबलेट बांटने का कोई फायदा नही है। इसलिए शिक्षा मंत्री को आज रोहतक से पचास हजार टीचरों की भर्ती की घोषणा करके जाना चाहिए साथ ही जल्द से जल्द इन टीचरों की नियुक्ति की घोषणा करनी चाहिए।
इस दौरान पीयूष बूरा, राजीव सरदाना, हरपाल क्रांति, जयराम महला, शक्ति पूनिया, संजय नारंग, किशोर छाबड़ा, ओजस सरदाना, संजय पोद्दार, चरणजीत व अन्य साथी मौजूद रहे।