फसल अवशेष प्रबंधन स्कीम के तहत रेड जोन में आने वाले 6 गावों में लगाए जाएंगे जागरूकता शिविर

फसल अवशेष प्रबंधन स्कीम के तहत रेड जोन में आने वाले 6 गावों में लगाए जाएंगे जागरूकता शिविर

हिसार, 06 अक्टूबर  रवि पथ :

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के विशेष सचिव अमरजीत सिंह मान (आईएएस) ने अधिकारियों एवं कर्मचारियों को जिले में किसानों के कल्याणार्थ क्रियान्वित की जा रही योजनाओं के प्रचार एवं प्रसार के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।
वे बुधवार को स्थानीय लघु सचिवालय स्थित उपकृषि निदेशक कार्यालय में विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की बैठक ले रहे थे। उन्होंने बैठक में फसल अवशेष प्रबंधन स्कीम के तहत रेड जोन में आने वाले विभिन्न 6 गावों में पराली न जलाने बारे जागरूकता शिविर लगानेे के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि फसल अवशेष जलाने से न केवल भूमि की उर्वरा शक्ति कम होती है, बल्कि पशुओं के लिए अवशेषों से चारा बनाया जा सकता है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान नीधि योजना, मेरा पानी-मेरी विरासत, मेरी फसल-मेरा ब्यौरा, सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली सहित विभिन्न योजनाओं के बारे में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना व प्रधानमंत्री किसान सम्मान नीधि योजना से संबंधित किसानों की समस्याओं का समाधान शीघ्र किया जाए। इसके साथ ही अधिकारी अपने-अपने कार्यालयों में सरकारी रिकॉर्ड का रख-रखाव समूचित ढंग से करें।
उपकृषि निदेशक डॉ विनोद फोगाट ने बताया कि जिले के 34 गावों में जागरूकता शिविर तथा 2 खंड स्तर पर प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए गए हैं। इसी कड़ी में जिला स्तरीय शिविर हांसी में आयोजित किया जाएगा।
इस अवसर पर उपमंडल कृषि अधिकारी, सहायक सांख्यिकी अधिकारी, सहायक पौधा संरक्षण अधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।