डीएसआर तकनीक से धान की सीधी बिजाई किसान के लिए वरदान

डीएसआर तकनीक से धान की सीधी बिजाई किसान के लिए वरदान

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग किसानों को कर रहा है प्रशिक्षित

हिसार, 10 जून  रवि पथ :

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, हिसार द्वारा किसानों को डीएसआर तकनीक से धान की सीधी बिजाई के लिए प्रेरित करने हेतू अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के तहत विभाग की टीमें किसानों को उनके खेत पर जाकर डीएसआर मशीन की बारिकियों एवं संचालन संबंधी प्रशिक्षण दे रही हैं।


सहायक कृषि अभियन्ता गोपी राम सांगवान ने बताया कि किसानों का रुझान धान की सीधी बिजाई की तरफ बढ़ रहा है। इस तकनीक से 20 से 30 प्रतिशत पानी की बचत की जा सकती है। श्रम के तौर पर भी किसानों को 3 हजार रुपये प्रति एकड़ तक की बचत होती है। इस तकनीक से फसल की पकाई भी 10 दिन पहले हो जाती है, जिससे अगली फसल की बुआई के लिये पर्याप्त समय मिल जाता है। निदेशालय द्वारा विभिन्न माध्यमों से किसानों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अब तक घिराए, डाबड़ा, राजली, बास, मोहला, थुराना एवं नारनौंद आदि गांवों में जागरूकता कैंप लगाए जा चुके हैं। प्रशिक्षण एवं जागरूक कैंप 20 जून तक लगाए जाएंगे। इस तकनीक से भू-जल संरक्षण में सहायता मिलती है तथा लागत में कमी आती है।