रियल टाईम डाटा इक्वीजीशन सिस्टम से रुकेगी नहरी पानी की चोरी: उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी

रियल टाईम डाटा इक्वीजीशन सिस्टम से रुकेगी नहरी पानी की चोरी: उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी

जिले की 5 नहरों पर लगाया गया सिस्टम

हिसार, 18 सितंबर  रवि पथ :

उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी ने बताया कि जिले में बरवाला ब्रांच, बालसमंद सब ब्रांच, उरला डिस्टीब्यूटरी, ओल्ड सिवानी फिडर तथा बालसमंद डिस्टीब्यूटरी पर रियल टाईम डाटा इक्वीजीशन सिस्टम लगा दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस सिस्टम के माध्यम से नहरी पानी की चोरी पर अंकुश लगेगा और किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त मात्रा में सिंचित जल उपलब्ध हो सकेगा।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा अंडर नेशनल हाइड्रोलॉजी प्रोजेक्ट (राष्टï्रीय जल विज्ञान परियोजना) के तहत रियल टाईम डाटा इक्वीजीशन सिस्टम (वास्तविक समय डेटा अधिग्रहण प्रणाली) के उद्घाटन किये जाने के अवसर पर आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उपायुक्त ने यह जानकारी दी। इन अवसर पर उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी ने सिंचाई विभाग के अधीक्षक अभियंता जसमेर सिंह के साथ जिले में बाढ बचाओं प्रबधों को लेकर किए गए कार्यों के साथ-साथ सिंचाई विभाग की विभिन्न परियोजनाओं के बारे में विस्तार से बातचीत की। बैठक में विभाग के कार्यकारी अभियंता रमेश कुमार भी उपस्थित थे। उपायुक्त ने कहा कि रियल टाईम डाटा इक्वीजीशन सिस्टम (आरटीडीएस) से नहरी पानी की चोरी पर अंकुश लगेगा तथा किस स्थान पर कितने नहरी पानी की चोरी की जा रही है, इसकी जानकारी प्राप्त की जा सकेगी। सिस्टम के माध्यम से कहां पर कितना पानी है, इसकी भी जानकारी हासिल की जा सकेगी।
इससे पूर्व वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सभी अधिकारियों से कहा कि जल का प्रबंधन करना बहुत जरूरी है। राज्य सरकार द्वारा जल संरक्षण एवं प्रबंधन को मध्यनजर रखते हुए विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों को प्रभावशाली ढंग से लागू किया गया है। इसी के दृष्टिïगत मेरा पानी-मेरी विरास्त, जल शक्ति अभियान तथा धान के स्थान पर अन्य फसलों की बिजाई करने वाले किसानों को 7 हजार रूपये की राशि प्रति एकड़ प्रोत्साहन के रूप मे दी जा रही है। राज्य सरकार द्वारा जनहित के कल्याणार्थ बनाई जा रही योजनाओं एवं कार्यक्रमों को लागू करने में जिले के उपायुक्त की अहम भूमिका होती है। उन्होंने योजनाओं को सुचारू ढंग से क्रियान्वित करने के लिए उपायुक्तों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए।