शहीदों के बलिदान का कर्ज नहीं चुका सकते हम: राज्यमन्त्री कमलेश ढांडा

March 23, 2022

शहीदों के बलिदान का कर्ज नहीं चुका सकते हम: राज्यमन्त्री कमलेश ढांडा

राष्ट्र भक्ति भावना को जन-जन तक पहुंचाना हम सभी का लक्ष्य

आजादी के अमृत महोत्सव के माध्यम से युवाओं को शहीदों से जोड़ रही है भाजपा

कलायत/कैथल  रवि पथ :

महिला एवं बाल विकास मंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि अमर बलिदानी भगत सिंह, सुखदेव व राजगुरू द्वारा अपना सर्वस्व बलिदान कर देश के करोड़ों युवाओं में आजादी की लौ को जलाने का काम किया गया था, जिसके बाद अंग्रेजी हकूमत की ईंट से ईंट बजाई गई। इन महान बलिदानियों की बदौलत आज की पीढ़ी को आजादी की खुली हवा में सांस लेने का अवसर मिल रहा है। आज हम उनका कर्ज नहीं चुका सकते, लेकिन उनकी विचारधारा पर आगे बढ़कर देश और समाज को मजबूत बनाने का फर्ज जरूर निभा सकते हैं।

वे बुधवार को ग्राम सचिवालय बाता में कलायत मंडल के शहीदी दिवस कार्यक्रम में मुख्यातिथि के तौर पर पहुंची थी। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ के मार्गदर्शन में भाजयुमो द्वारा पंजाब से शहीद भगत सिंह, सुखदेव व राजगुरू के बलिदान स्थल से संकलित मिट्टी को तिलक करके राज्यमन्त्री कमलेश ढांडा एवं सैंकड़ो पदाधिकारियों ने शहीदों को अपनी भावांजलि दी। सचिवालय परिसर में उमड़े सैंकड़ों नागरिकों को सम्बोधित करते हुए महिला एवं बाल विकास मंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि भारत जब भी अपने आजाद होने पर गर्व महसूस करता है तो उसका सर उन महापुरुषों के लिए हमेशा झुकता है, जिन्होंने देश प्रेम की राह में अपना सब कुछ कुर्बान कर दिया।देश के स्वतंत्रता संग्राम में लाखों ऐसे नौजवान भी थे, जिन्होंने ताकत के बल पर आजादी दिलाने की ठानी और क्रांतिकारी कहलाए और उनमें शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु का नाम सबसे पहले आता है। उन्होंने कहा कि आज के दिन महान क्रांतिकारी भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु ने हंसते हंसते अपने प्राण न्यौछावर कर दिए थे। यह दिन ना केवल देश के प्रति सम्मान और गौरव का अहसास दिलाता है, बल्कि वीर सपूतों के बलिदान को भीगे मन से भावांजलि देता है।

राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि देश के इन महान बेटों के बलिदान को देश कभी नहीं भूल सकता। देश की युवा पीढ़ी हमेशा इन तीनों को अपने आदर्श के रूप में देखती है। उन्होंने कहा कि भगत सिंह ने कहा था कि आदमी को मारा जा सकता है पर उसके विचार को नहीं। उन्होंने देश के नौजवानों में ऊर्जा का ऐसा संचार किया कि विदेशी हुकूमत को इनसे डर लगने लगा। आज भी आजादी की लड़ाई में कूदने वाले भगत सिंह की दिलेरी की कहानियां हमारे अंदर देशभक्ति की आग जलाती हैं। उन्होंने महा कि देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है और भारत की आजादी के इतिहास में अमर शहीद भगत सिंह का नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखा गया है। ऐसे अमर शहीदों के बलिदानों का कर्ज तो नहीं चुकाया जा सकता, लेकिन उनके सम्मान में राष्ट्रीय भक्ति के प्रयासों द्वारा समाज में जागरूकता जरूर लाई जा सकती है।

राज्यमन्त्री कमलेश ढांडा ने कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  ओमप्रकाश धनखड द्वारा देश की आजादी के मतवालों को नमन करने तथा उनके बलिदान की कहानियां घर-घर पहुंचाने के संकल्प पर आगे बढते हुए हम ऐसे आयोजन में भागीदारी कर रहे हैं। हमें गर्व है, हमारे प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड पर।पहले उन्होंने दिसंबर 2021 में शहीद वीर सावरकर के पोर्ट ब्लेयर में तिरंगा फहराने के अवसर पर सैंकडों कार्यकर्ताओं के साथ ध्वजारोहण किया तथा वहां की मिट्टी प्रदेश में लाकर कार्यकर्ताओं को नमन करने का अवसर दिया। इसके बाद 23 जनवरी को नेता जी सुभाष चंद्र बोस की जन्म जयंती पर 7800 स्थानों पर आजादी का तराना गाने का अवसर दिया। बीते 27 फरवरी को भी हमने मंडल स्तर पर शहीद चंद्रशेखर आजाद के बलिदान स्थल आजाद पार्क की पवित्र मिट्टी का तिलक किया। लाने का काम किया और एक बार फिर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ ने पंजाब में दो दिवसीय शहीद नमन यात्रा का नेतृत्व किया। उनके मागदर्शन में युवा मोर्चे के पदाधिकारी पहले फिरोजपुर जिला के हुसैनीवाला पहुंचे और शहीद स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरू को नमन किया और वहां की पवित्र मिट्टी को अपने माथे पर लगाया। इसके बाद जलियांवाला बाग शहीद स्मारक व शहीद भगत सिंह के गांव खटकड कलां में जाकर अपनी भावांजलि अर्पित की। आज वहां से आई मिट्टी को हम सभी को तिलक करने का अवसर मिल रहा है, जो ऐतिहासिक है। इन महान क्रांतिकारियों का अमर बलिदान युगों.युगों तक हम सभी को राष्ट्र सेवा के लिए प्रेरित करता रहेगा।

उन्होंने सभी से आह्वान किया कि अब हम सब को मिलकर अपने वीर शहीदों की कहानियों को जन-जन तक पहुंचाना है। उनके बाद जिलाध्यक्ष अशोक गुर्जर, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सुभाष हजवाना एवं भाजयुमो प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य एवं पालक कलायत विधानसभा तुषार ढांडा, ने भी शहीदी दिवस कार्यक्रम को संबोधित किया।

इस अवसर पर भाजयुमो जिलाध्यक्ष आदित्य भारद्वाज, मंडल अध्यक्ष महिपाल राणा, डॉ मदन मटौर, कपिल दीक्षित, कलायत पालिका चेयरपर्सन प्रतिनिधि राजू कौशिक, वाइस चेयरपर्सन प्रतिनिधि ललित धीमान, युवा मोर्चा मंडल अध्यक्ष राजीव राजपूत, विक्की देबबन, बलवान शर्मा, रामकुमार राणा बाता, कुलविंदर राणा, राममेहर शर्मा, जयदीप राणा, पार्षद करणदीप दहिया व सतीश धीमान, नरेश शास्त्री चंदाना, नरेश शर्मा बाता, राजकुमार सरपंच ब्राह्मणीवाला, बीरबल सरपंच हरिपुरा, पवन शर्मा सरपंच बाता, सुशील पांचाल, राहुल राणा, श्यामलाल बाता, जरनैल राणा, दिलबाग राणा समेत वरिष्ठ पदधिकारी मौजूद रहे।