हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के साथ प्रशासनिक अधिकारियों की वीसी आयोजित

हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के साथ प्रशासनिक अधिकारियों की वीसी आयोजित

फतेहाबाद, 28 अप्रैल  रवि पथ :

हरियाणा में कोरोना केलगातार बढ़ते मामलों केचलते सरकार सतर्क है तथा कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए पुख्ता प्रबंध किए गए है। इसके अलावा प्रदेश के सभी जिलों में धारा-144 लागू कर दी गई है। हरियाणा के गृह और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सभी उपायुक्तों को निजी व सरकारी हस्पतालों में ऑक्सीजन बैड, ऑक्सीजन भंडारण की क्षमता तथा वेंटिलेटर सहित अन्य जरूरतों को तत्परता से उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है। सभी उपायुक्तों को धारा-144 से सख्ती से पालन करने के निर्देश है। कोविड मरीजो की जरूरतों को पूरा करने के लिए विदेश से भी ऑक्सीजन मंगवाई जाएगी। गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने गत दिवस देर सायं वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए तथा मार्गदर्शन किया। इस मौके पर एसपी राजेश कुमार, एडीसी डॉ. मुनीष नागपाल सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।
राज्य स्तरीय कोविड निगरानी समिति और जिला उपायुक्तों की बैठकमें विज ने कहा की जिस कोरोना मरीज की मृत्यु हो जाती है उसका अंतिम संस्कार कोविड प्रोटोकॉल के तहत उसी दिन कराने की व्यवस्था करें। शमशान भूमि का आवश्यकता अनुसार चयन करें। डायल-112 की बीस-बीस गाडिय़ां हर जिले में भेजी जा रही है जिनका जरूरत अनुसार उपयोग करें। स्वास्थ्य मंत्री ने उपायुक्तों से कहा किवे अपने जिलों में जिला स्तरीय कोविड निगरानी समिति का गठन करें, जिसमें विभिन्न विभागों सहित जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण के सचिव भी शामिल किए जाए। सिविल सर्जन अपने क्षेत्र में होम आइसोलेशन में उपचाराधीन मरीजों की प्रत्येक दूसरे दिन घर पर जाकर जांच कराने की व्यवस्था करें तथा उन्हें दवाइयां, आयुष किट और अन्य आवश्यक सामग्री उपलब्ध करवाएं। मरीजों को नियमित परामर्श केलिए चिकित्सकों के नाम एवं मोबाइल नंबर अखबारों में प्रकाशित किए जाएगें, ताकि होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड मरीज उनसे संपर्क कर सकें।


  1. स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने उपायुक्तों को अपने जिलों में हस्पतालों या अन्य स्थलों पर बैड क्षमता बढ़ाने को कहा है ताकिकोई भी मरीज उपचार से वंचित ना रहें। सभी सरकारी मेडिकल कॉलेजों में क्रिटिकल कोरोना सेंटर बनाए जा रहे है। मेडिकल कॉलेजों में बढ़ रही करीब 1400 पीजी और एमबीबीएस अंतिम वर्ष के विद्यार्थिओं को तुंरत जिलों में लगाया जाएगा। वीसी उपरांत एडीसी ने अधिकारियों की बैठक लेेते हुए सख्त निर्देश दिए कि जिला में धारा 144 की कड़ाई से पालना की जाए। समय-समय पर सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित हो इसके लिए सभी आवश्यक कदम उठाए। इस कार्य में ढिलाही व कौताही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। इस मौके पर एसपी राजेश कुमार, सीटीएम अंकिता वर्मा, डीएसपी सुभाष चंद्र, सीएमओ डॉ. गोबिंद गुप्ता, डिप्टी सीएमओ डॉ. सुनीता सोखी, डीआईसी उप निदेशक जेसी लांग्यान, जिला आयुष अधिकारी धर्मपाल पूनिया सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।