डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा ने किसानों से आंदोलन खत्म करने का अनुरोध किया

डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा ने किसानों से आंदोलन खत्म करने का अनुरोध किया

कहा, खुले मन और खुले दिल से व्यापक जनहित को देखते हुए अपना आंदोलन समाप्त करें आंदोलनरत किसान

हिसार, 24 नवंबर  रवि पथ :

डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा ने केंद्र सरकार द्वारा कृषि कानूनों को निरस्त किए जाने संबंधी निर्णय के बाद आंदोलनरत किसानों से अपना आंदोलन समाप्त करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि आंदोलनरत किसान अब मंथन करें और आमजन की परेशानियों के मद्देनजर जल्द से जल्द आंदोलन को वापिस लें।
बुधवार को जारी एक ब्यान में उन्होंने कहा कि हालांकि कृषि सुधार के तीनों कानून किसानों की आर्थिक स्थिति को मजबूत करने के लिए लाए गए थे, लेकिन विपक्षी दलों ने इस मुद्दे पर अपनी राजनीतिक स्वार्थ सिद्घी के लिए लोगों को गुमराह करने का कार्य किया। अब क्योंकि इन कानूनों को वापिस लेने का निर्णय हो चुका है, आगामी संसदीय सत्र में ये कानून निरस्त हो जाएंगे, इसलिए आंदोलन कर रहे किसान भाईयों को भी अब केंद्र सरकार के निर्णय के अनुरूप अपने घरों को लौट जाना चाहिए। इससे आमजन को हो रही असुविधा से भी निजात मिलेंगी।
डिप्टी स्पीकर ने कहा कि पूर्व में अफवाह फैलाने वाले विपक्षी दल फिर से अपने राजनीतिक रोटियां सेकने के लिए उल-जुलूल बयानबाजी कर रहे हैं। इससे यह बात साबित होती है कि ऐसे लोग अव्यवस्था फैलाने में ही विकास रखते है, इसलिए किसान भाई अब इनके भ्रम जाल में न आएं। उन्होंने किसानों से अनुरोध किया कि वे कुछ वर्ष पीछे जाकर यह जरूर सोंचे कि केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, मेरी फसल-मेरा ब्यौरा, भावांतर भरपाई योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, पशुधन बीमा योजना तथा प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना सहित विभिन्न योजनाएं आखिर किसानों के हित के लिए ही चलाई गई हैं। इसलिए किसान भाई खुले मन और खुले दिल से व्यापक जनहित को देखते हुए अपना आंदोलन समाप्त करें।